Nitish Kumar and Chirag Paswan

पटना. लोक जनशक्ति पार्टी प्रमुख चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने बिहार (Bihar) में धार्मिक पर्यटन का विकास नहीं होने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को जिम्मेदार ठहराते हुए रविवार को कहा कि राजस्व संग्रह को बेहतर बनाने के लिए उनकी पार्टी (लोजपा) प्रदेश में सूफी—संतों से जुडे धार्मिक पर्यटन स्थलों का विकास करेगी।

चिराग ने रविवार को ट्वीट किया, ”धार्मिक पर्यटन से लोगों की आस्था भी जुड़ी हुई है और इससे बिहार का राजस्व भी बढ़ेगा। इसलिए बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट : बिहार विधानसभा चुनाव में सत्ता में आने पर लोजपा द्वारा लागू किया जाने वाला विज़न डॉक्युमेंट: में धार्मिक पर्यटन पर विशेष ज़ोर दिया गया है। राजस्व बढ़ाने का प्रयास सभी सम्भावित क्षेत्र से करना होगा।”

उन्होंने कहा, ”माता सीता के साथ-साथ बिहार में भगवान महावीर, गौतम बुद्ध, गुरु गोबिंद सिंह व कई सूफ़ी संत जैसे महान दिव्य शक्तियों का वास रहा है। इन सब स्थानों को विशेष सर्किट से जोड़ा जाएगा।”

बिहार में राजग से बाहर होकर और अकेले चुनाव लड़ रही लोजपा के प्रमुख चिराग ने आरोप लगाया, ”बिहार में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा यदि हमारे मौजूदा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी ने पिछले 15 साल में दिया होता, तो आज बिहार राजस्व की समस्या से बेहाल नहीं होता।”

उन्होंने कहा, ”सिया बिन राम अधूरे हैं इसलिए भगवान राम का मंदिर (अयोध्या में) बनने के साथ सीतामढ़ी में माता सीता का भव्य मंदिर का निर्माण बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट लागू कर कराउंगा।

सीतामढ़ी से अयोध्या तक 6 लेन की सड़क बना कर सिया-राम कोरिडोर बनाने की इच्छा रखने वाले चिराग ने कहा, ”माता सीता नारी सशक्तिकरण व नारी स्वाभिमान की प्रतीक हैं।” बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 136 पर अपने उम्मीदवार उतराने वाली एवं केंद्र में राजग में शामिल लोजपा के प्रमुख ने अपने समर्थकों से कहा, ”आप सभी से अनुरोध है कि जहां भी लोजपा के प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे है, उन सभी स्थानों पर बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट को लागू करने के लिए लोजपा के प्रत्याशियों को वोट दें एवं अन्य स्थानों पर भाजपा के उम्मीदवारों को वोट दें।

राज्य में नीतीश मुक्त सरकार बनेगी।” भाजपा के एक विज्ञापन से नीतीश की तस्वीर ग़ायब होने पर चिराग ने उनपर हमला बोलते हुए कहा, ”भाजपा के मेरे साथियों ने समय रहते हटा दी नीतीश कुमार की फ़ोटो। अब भाजपा के मेरे साथियों को भी नीतीश कुमार के तस्वीर से घबराहट हो रही है।” (एजेंसी)