indian railways

    देहरादून: उत्तराखंड (Uttarakhand) में बुधवार को एक बड़ी रेल दुर्घटना (Train Accident) टल गई। नई दिल्ली से टनकपुर जा रही पूर्णागिरी जनशताब्दी एक्सप्रेस (Purnagiri Janshatabdi Express) अचानक रेल पटरियों पर उल्टी दिशा में दौड़ने लगी, लेकिन कुछ किलोमीटर दूर जाकर वह रूक गई । उत्तराखंड में एक सप्ताह के भीतर यह दूसरी घटना है जब रेल दुर्घटना होते-होते बची है।

    चंपावत के पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह ने बताया कि संभवत: किसी जानवर के टकराने के दौरान प्रेशर ब्रेक इस्तेमाल किए जाने से इंजन में तकनीकी समस्या आ गई और रेलगाड़ी अचानक उल्टी दिशा में दौड़ने लगी। हालांकि, उन्होंने कहा कि बनबसा से दो-तीन किलोमीटर पीछे दौड़ने के बाद रेलगाड़ी चकरपुर में रूक गई और इसमें जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ।

    पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस दौरान रेलगाड़ी में करीब 60-70 यात्री थे और यात्रियों को चकरपुर में सुरक्षित उतार कर बसों से उनके गंतव्य तक भेजा गया है। शनिवार को नई दिल्ली से देहरादून आ रही शताब्दी एक्सप्रेस के एक कोच में राजाजी टाइगर रिजर्व की कांसरों रेंज के निकट आग लग गई थी । इस दौरान रेलगाड़ी का पूरा कोच जलकर खाक हो गया था, लेकिन उसमें यात्रा कर रहे 35 यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था ।