प्रकाश सिंह बादल ने लिखा प्रधानमंत्री मोदी को पत्र, किसानों को लेकर जताई चिंता

चंडीगढ़: शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) के नेता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल (Prakash Singh Badal) ने सोमवार को किसान आंदोलन (Farmer Protest) को प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखा है। बादल ने मौजूदा समय में चल रहे प्रदर्शन को लेकर चिंता जताते हुए लिखा, “मुझे ऐसा लगता है कि अगर सरकार ने वास्तव में किसानों की पहल के बारे में सोचा था तो ईमानदार प्रतिक्रिया पर अधिक ध्यान दिया जाता तो इस मुद्दे से बेहतर तरीके से निपटा जा सकता था।”

आर्थिक ताने-बाने को करेगा प्रभावित  

बादल ने अपने पत्र में आगे लिखा, “देश में गहरी उथल-पुथल मचाने वाले तीन अधिनियमों को किसानों को बनाए बिना वापस ले लिया जाना चाहिए और उनके परिवार को इस कड़ाके की ठंड में कोई और कष्ट उठाना ना पड़े।” उन्होंने कहा, “मुद्दा अकेले किसानों की चिंता नहीं करता बल्कि देश के संपूर्ण आर्थिक ताने-बाने को प्रभावित करता है।”

ज्ञात हो कि केंद्र सरकार द्वारा पास किए गए तीन कृषि क़ानूनों को लेकर पिछले 12 दिन से दिल्ली हरियाणा के सिंघु और टिहरी बॉर्डर पर जमे हुए हैं वह लगातार तीनों क़ानूनों को बंद करने की मांग कर रहे हैं वहीं कल विरोध में किसानों ने भारत बंद बुलाया है 

पद्म विभूषण लौटने का किया ऐलान

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री बादल ने इसके पहले किसानों को समर्थन में केंद्र सरकार द्वारा मिले पद्म विभूषण लौटने का ऐलान कर चुके हैराष्ट्रपति को लिखे अपने पत्र में बादल ने कहा, “मैं इतना गरीब हूं कि किसानों के लिए कुर्बान करने के लिए मेरे पास कुछ और नहीं है। मैं जो भी हूं किसानों की वजह से हूं। ऐसे में अगर किसानों का अपमान हो रहा है तो किसी तरह का सम्मान रखने का कोई फायदा नहीं है। किसानों के साथ जिस तरह का धोखा किया गया है, उससे उन्हें काफी दुख पहुंचा है।”