Punjab Health Minister Balbir Singh Sidhu

    चंडीगढ़. पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू (Punjab Health Minister Balbir Singh Sidhu) ने बृहस्पतिवार को केंद्र पर भाजपा शासित राज्यों की तुलना में राज्य को कम संख्या में कोविड​​​​-19 टीकों की खुराक (COVID-19 Vaccines Dose) की आपूर्ति करने का आरोप लगाया। मंत्री ने दावा किया कि टीकों की अपर्याप्त आपूर्ति से राज्य में टीकाकरण अभियान की गति धीमी हो गई है। उन्होंने कहा कि पंजाब में प्रतिदिन तीन लाख लोगों को टीका लगाने की क्षमता है।

    सिद्धू ने यहां एक बयान जारी करके कहा कि टीकाकरण के आंकड़ों से पता चला है कि मध्य प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश जैसे भाजपा शासित राज्यों में टीकाकरण अभियान की गति कई गुना बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में 21 जून को 17 लाख खुराक लगायी गई, जबकि 20 जून से पहले प्रतिदिन औसतन 1.75 लाख खुराक दी गई थी।

    मंत्री ने आरोप लगाया, ‘‘इस लिहाज से कुल मिलाकर नौ गुना वृद्धि होती है जो भारत सरकार द्वारा राज्यों को टीकों की आपूर्ति में असमानता को उजागर करती है।”

    उन्होंने दावा किया कि मध्य प्रदेश को एक दिन में 17 लाख खुराक मिलीं, जबकि पंजाब को एक जून से 24 जून के बीच सिर्फ 16 लाख खुराक मिलीं। सिद्धू ने कहा कि मांग और आपूर्ति के बीच का अंतर चिंता का विषय है और टीकाकरण अभियान की सफलता के लिए टीकों का समान वितरण महत्वपूर्ण है।

    उन्होंने दावा किया कि हरियाणा में खुराक दिये जाने में 7.14 गुना वृद्धि देखी गई, कर्नाटक में 5.50 गुना, असम में 5, उत्तराखंड में 3.80, हिमाचल प्रदेश में 3, उत्तर प्रदेश में 2.29 और गुजरात में 2.5 गुना वृद्धि हुई। सिद्धू ने कहा कि पंजाब को मई महीने में सिर्फ 17 लाख खुराक मिलीं।

    उन्होंने कहा कि केंद्र द्वारा जून में 21 लाख खुराक देने का आश्वासन दिये जाने के बावजूद, उसने टीके की केवल 16 लाख खुराक दी हैं। मंत्री ने कहा कि यह टीकों की “असमान” आपूर्ति को दर्शाता है जो पंजाब में टीकाकरण अभियान को प्रभावित कर रहा है। उन्होंने पंजाब के लिए हर दिन टीके की दो लाख खुराक की आपूर्ति की मांग की। (एजेंसी)