paswaan-nitish

पटना. लोकजनशक्ति पार्टी (LJP) के नायक और जन्मदाता रामविलास पासवान की अंतिम यात्रा आज सुबह 11 बजे  उनके घर से आरम्भ होगी. इसके बाद दोपहर 12.30 बजे  पूरे राजकीय सम्मान के साथ दीघा घाट पर गंगा नदी के तट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। 

बता दें कि, स्वर्गीय पासवान का  पार्थिव शरीर शुक्रवार शाम 7.55 बजे पटना पहुंचा था. यही नहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रामविलास को एयरपोर्ट पर ही श्रद्धांजलि दी थी। वहां नीतीश की आंखों में नमी थी और चिराग पासवान से उनकी आंखों-आंखों में ही कुछ ममस्पर्शी बातें हुई। गौरतलब है कि यही नितीश कुमार के खिलाफ रामविलास और उनके बेटे LJP अध्यक्ष चिराग पासवान ने उन पर कई कटाक्ष किये थे.

कल पटना एयरपोर्ट पर हुआ था हंगामा 

इसके पहले कल जब रामविलास की बेटी और दामाद को पटना एयरपोर्ट पर अंदर जाने से रोका गया, तो इसके चलते बड़ा हंगामा हो गया था । यही नहीं स्वर्गीय पासवान की बेटी आशा और दामाद अनिल कुमार साधु ने आरोप लगाया कि कुछ सुरक्षाकर्मी उन्हें अंदर ही नहीं जाने दे रहे थे। इसी समय वहां पहुंचे उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की कार को भी अनिल ने रोक हंगामा किया था। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों की काफी कोशिशों के चलते अनिल कार के सामने से हटे।

मोदी, अमित शाह, राजनाथ और राहुल गांधी ने दी थी श्रद्धांजलि 

वहीं बीते शुक्रवार को स्वर्गीय पासवान का पार्थिव शरीर दिल्ली में उनके 12 जनपथ वाले सरकारी निवास पर अंतिम दर्शनार्थ हेतु रखा गया था। वहां PM नरेंद्र मोदी ने उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी थी । PM मोदी के साथ BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भी साथ आये हुए थे। इसके बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी स्वर्गीय  पासवान को अपनी श्रद्धांजलि देने उपस्तिथ हुए थे।

बता दें कि वरिष्ठ नेता रामविलास पासवान का 74 साल की उम्र में बीते गुरुवार 8 अक्टूबर को दिल्ली में निधन हो गया था। वे पिछले कई  महीनों से बीमार चल रहे थे और बीते 11 सितंबर को उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया था। वहीं दिल्ली के एम्स (AIIMS) में बीते 2 अक्टूबर की रात उनकी हार्ट सर्जरी हुई थी। बताया जा रहा है कि इससे पहले भी स्वर्गीय पासवान की एक बायपास सर्जरी हो चुकी थी।