TEJASVI

पटना. जहाँ एक तरफ बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha Elections) के चलते हवा गर्म है। वहीँ इन सबके बीच RJD (राष्ट्रीय जनता दल) ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है। इस घोषणापत्र में सबसे बड़ी बात जो RJD ने की है वह है बिहार के बेरोजगार युवाओं को 10 लाख नौकरी देने का वादा। इस घोषणा पत्र को तेजस्वी यादव (Tejasvi Yadav) ने कई वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में  पटना में जारी किया।     

क्या हैं RJD के चुनावी वादे:

RJD के इस घोषणा पत्र में लोगों से ख़ास कर  बेरोजगारों से कई वादे किए गए हैं। जहाँ RJD ने इस बार भी 10 लाख नौकरी देने के अपने पुराने बयान को दोहराया है। वहीं अब इसके साथ बेरोजगार युवाओं को 1500 रुपये बेरोजगारी भत्ता देने का भी वादा किया गया है। इसमें यह भी कहा गया है कि अब सरकारी नौकरियों का फॉर्म भरने के लिए बिहार के युवाओं को आवेदन शुल्क भी नहीं देना होगा। घोषणापत्र के अनुसार सरकारी नौकरी में बिहार के युवाओं को ज्यादा तरजीह देने के लिए राज्य सरकार डोमिसाइल पॉलिसी भी लाएगी और सरकारी नौकरियों के 85 % पद बिहार के युवाओं के लिए आरक्षित भी रहेगा। इसके अलावा किसानों का कर्ज माफ करने की घोषणा भी इसमें की गयी है  

और क्या क्या वादे किये हैं RJD ने:

  • RJD ने कहा कि नए उद्योगों के लिए नई नीति होगी.
  • अब नए उद्योग स्थापित करने के लिए नहीं देगा पड़ेगा टैक्स .
  • संविदा शिक्षकों और उर्दू शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति का वादा. 
  • किसान आयोग, व्यावसायिक आयोग, युवा आयोग और खेल आयोग का गठन का वादा. 
  • राज्य की जीडीपी का 22 प्रतिशत हिस्सा शिक्षा पर होगा खर्च.
  • किसानों का मिलेगी कर्ज माफ़ी.
  • गांवों बनेंगे स्मार्ट और लगेंगे सीसीटीवी. 
  • बुजुर्गों और गरीबों की पेंशन 400 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये प्रति महीने होगी. 
  • होगी किडनी मरीजों के लिए मुफ्त डायलासिस की व्यवस्था. 
  • होगा हर जिले में मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का गठन. 
  • ’50 साल का उम्र पूरा कर चुके सरकारी कर्मचारी को जरुरत के हिसाब से आवश्यक सेवा निवृति। यह आदेश होगा वापस.