चुनावी रैली के दौरान तेजस्वी यादव पर चप्पल फेंकी गई

औरंगाबाद. राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) पर मंगलवार को चुनाव प्रचार (Election Campaign) के दौरान चप्पल फेंकी गई। तेजस्वी औरंगाबाद (Aurangabad) में कुटुम्बा विधानसभा सीट (Kutumba Assembly Seat) पर कांग्रेस उम्मीदवार (Congress Candidate) के पक्ष में रैली करने पहुंचे थे। राजद नेता जब मंच पर कुछ नेताओं के साथ बैठे थे तब भीड़ में से किसी ने उनके उपर चप्पल फेंकी।

पार्टी के आधिकारिक सूत्र ने यह जानकारी दी। इस घटना से जुड़े वीडियो में यह स्पष्ट हुआ है कि एक चप्पल का निशाना चुक गया जबकि दूसरा चप्पल उनके हाथों को लगते हुए गोद में गिरा। इससे पहले राजद कार्यकर्ता उनके समर्थन में नारे लगा रहे थे।

सूत्रों ने बताया कि तिपहिये पर बैठे एक दिव्यांग व्यक्ति ने चप्पल फेंकी थी जिसे लोगों और सुरक्षा बलों ने पकड़ लिया। तेजस्वी इससे अप्रभावित दिखे और उन्होंने भाषण के दौरान इसका उल्लेख भी नहीं किया।

राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने घटना की निंदा करते हुए नेताओं की पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग की। बहरहाल, तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा है कि विधानसभा चुनाव के बाद बिहार में महागठबंधन की सरकार बनी तो वे पहले कैबिनेट में ही राज्य के 10 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने का मार्ग प्रशस्त करेंगे।

उन्होंने दावा किया कि राज्य में लाखों पद खाली पड़े हैं और लेकिन नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार ने यहां के बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के लिए कोई पहल नहीं की। उन्होंने कहा कि हमने अपने घोषणापत्र में राज्य के 10 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने की घोषणा की है जिसे हर हाल में हम पूरा करेंगे।

महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार ने कहा कि राज्य की राजग सरकार विकास का ढिंढोरा पीट रही है लेकिन ऐसी कोई बात नहीं है और गांव की बात तो दूर शहर भी बदहाल है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में महागठबंधन की सरकार बनी तो नियोजित शिक्षकों को समान काम के लिए समान वेतन दिया जाएगा। तेजस्वी ने दावा किया कि इस विधानसभा चुनाव में पूरे राज्य में महागठबंधन की लहर चल रही है और 10 नवंबर को हमारी सरकार बनने का मार्ग प्रशस्त हो जाएगा। (एजेंसी)