सीएम तीरथ सिंह रावत (Photo Credits-ANI Twitter)
सीएम तीरथ सिंह रावत (Photo Credits-ANI Twitter)

    नैनीताल: उत्तरखंड के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का विवादों से पीछा छूट नहीं रहा है। फटी जींस के विवाद से अभी निकले थी थे कि, उन्होंने बच्चों को लेकर नया विवादित बयान दे दिया है। रविवार को नैनीताल में आयोजित एक सभी को संबोधित करते हुए कहा, “लोगों ने कम बच्चे पैदा किए, इसलिए उन्हें कम राशन मिला।”

    दरअसल, आयोजित कार्यक्रम में लॉकडाउन के दौरान बांटे गए मुफ्त राशन पर बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, “हर घर में पर यूनिट 5 किलो राशन दिया गया।10 थे तो 50 किलो, 20 थे तो क्विंटल राशन दिया। फिर भी जलन होने लगी कि 2 वालों को 10 किलो और 20 वालों को क्विंटल मिला। इसमें जलन कैसी? जब समय था तो आपने 2 ही पैदा किए 20 क्यों नहीं पैदा किए।”

    गुलामी पर भी फिसली जुबान 

    संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री तीरथ ने ऐसी बात बोल दी जिससे वहां मौजूद लोग हैरानी में पड़ गए। कोरोना वायरस पर बोलते हुए कहा, “अन्य देशों के विपरीत, भारतकोरोना संकट से निपटने के मामले में बेहतर काम कर रहा है। अमेरिका, जिसने हमें 200 वर्षों तक गुलाम बनाया और दुनिया पर राज किया, वर्तमान समय में संघर्ष कर रहा है।” देश के हर व्यक्ति को पता है कि, देश में अमेरिका ने नहीं, इंग्लैंड ने राज किया था। 

    ज्ञात हो कि, तीरथ सिंह रावत को मुख्यमंत्री बने अभी सिर्फ 11 दिन हुए हैं, इन 11 दिनों में उन्होंने ऐसे ऐसे विवादित बयान दिए की सोशल मीडिया के साथ-साथ विपक्षियों के निशाने पर आगये थे। पिछले दिनों उन्होंने फटी जींस को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि, युवाओं को फटी जींस पहनकर घूमते देखते हैं तो उन्हें आश्चर्य होता है। 

    उन्होंने एक संस्मरण का जिक्र करते हुए कहा कि वह फाइट से यात्रा कर रहे थे। उनके बाजू में एक महिला बैठी हुई थी। उस महिला ने पांव में गमबूट और घुटनों में फटी जींस पहनी हुई थी। महिला के साथ उसके दो बच्चे भी थे। बाद में जब पूछा तो पता चला की वह एनजीओ चलाती हैं, पति जेएनयू में प्रोफेसर हैं। मैंने सोचा कि, “घुटने फटे दिख रहे हैं, समाज के बीच में जाती हैं, बच्चे साथ में है। क्या संस्कार दे रही हैं।”