kailash vijayvargiya

कोलकाता. भाजपा के राष्ट्रीय सचिव कैलाश विजयवर्गीय ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि बंगाल में उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं की हत्या करने के लिए तृणमूल कांग्रेस ने बांग्लादेश से भाड़े के गुंडे बुलाए हैं। वहीं, सत्तारूढ़ दल ने इन आरोपों को निराधार करार दिया है। पश्चिम बंगाल में भाजपा के केन्द्रीय पर्यवेक्षक विजयवर्गीय ने यह भी दावा किया कि राज्य सरकार के अधिकारी ‘‘तृणमूल कांग्रेस के कैडर” की तरह काम कर रहे हैं।

उन्होंने एक समाचार चैनल से कहा, ‘‘कुछ दिन पहले हमारी पार्टी के नेता मनीष शुक्ला की हत्या कर दी गई। उनके पास लाइसेंसी हथियार था। लेकिन पुलिस ने उनकी हत्या से कुछ ही महीने पहले यह लाइसेंसी हथियार जब्त कर लिया था।”

उन्होंने कहा, ‘‘इससे पहले भी हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या की गई है और उन्हें फांसी पर लटकाया गया है। लेकिन अब तृणमूल कांग्रेस उनकी हत्या करने के लिए बांग्लादेश से भाड़े पर गुंडे ला रही है। इससे आप समझ सकते हैं कि हम कैसे हालात का सामना कर रहे हैं।” यह पूछे जाने पर कि अपने दावों को लेकर क्या पार्टी सबूत पेश कर सकती है, भाजपा नेता ने कहा कि ये राजनीतिक आरोप नहीं है, केवल सीबीआई जांच से ही सच सामने आ सकता है।

टीएमसी के वरिष्ठ नेता और राज्य के खाद्य आपूर्ति मंत्री ज्योतिप्रिय मलिक ने विजयवर्गीय के आरोपों को ‘निराधार’ करार देते हुए भाजपा नेता को सबूत पेश करने की चुनौती दी। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के निवासी विजयवर्गीय को बंगाल की भौगोलिक और राजनीतिक संस्कृति की जानकारी नहीं है और वह राजनीति से प्रेरित आरोप लगा रहे हैं। (एजेंसी)