West Bengal government set to sell 'Sandesh', which increases resistance

कोलाकाता. बंगाली मिठाइयों को पसंद करने वालों के लिए कोविड-19 की महामारी के बीच अच्छी खबर आई है। पश्चिम बंगाल सरकार ‘संदेश’ को बाजार में उतारने की तैयारी कर रही है जिसमें सुंदरबन के शहद का इस्तेमाल किया जाएगा जो प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मददगार होगा। पशुधन संसाधन विकास विभाग के अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि गाय के दूध से बने छेने में सुंदरबन के शहद को मिलाकार ‘ आरोग्य संदेश’ बनाया जाएगा जिसमें तुलसी का अर्क भी मिलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसमें कोई भी कृत्रिम स्वाद नहीं मिलाया जाएगा और आरोग्य संदेश कोलकाता और पड़ोसी जिलों में विभाग के बिक्री केंद्रों से बेचा जाएगा।

अधिकारी ने कहा कि संदेश प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करेगा लेकिन यह कोविड-19 को ठीक करने के लिए नहीं होगा। सुंदरबन मामलों के मंत्री मांतुराम पखीरा ने कहा कि आरोग्य संदेश बनाने के लिए शहद को पीरखली, झारखली और सुंदरबन के अन्य इलाकों से एकत्र कर वैज्ञानिक तरीके से भंडारण किया जाएगा। अधिकारी ने बताया कि संदेश को अगले दो महीनों में बाजार में उतार दिया जाएगा और इसकी कीमत आम लोगों की पहुंच में होगी।(एजेंसी)