AMRINDER

चंडीगढ़. किसान (Farmers) लगातार तीन कृषि कानूनों (Agriculture Laws) के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। इस आंदोलन के दौरान कई किसानों की मौत हो चुकी हैं। इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Amrinder Singh) ने शुक्रवार को बड़ी घोषणा की है। उन्होंने कहा है कि आंदोलन में जान गंवानेवाले पंजाब के किसान के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी (Government Job) देंगे।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा, “मुझे रिपोर्ट मिली है कि तीन कृषि कानूनों के विरोध में 76 किसानों का निधन हो चुका है। आज मैं घोषणा करता हूं कि किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले पंजाब के किसान के एक परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी देंगे।”

मुख्यमंत्री ने कृषि कानूनों को जल्दबाजी में पास करने पर भी सवाल उठाये। उन्होंने कहा, “कैप्टन ने कहा कि क्या इस देश में एक संविधान है? कृषि अनुसूची के तहत एक राज्य का विषय है। केंद्र ने संसद में चर्चा के बिना इसे क्यों बदल दिया? उन्होंने इसे लोकसभा में पारित कर दिया क्योंकि वे अधिक सदस्य थे। राज्यसभा में यह अराजकता में पारित किया गया क्योंकि उन्हें लगा कि चीजें गलत हो सकती हैं।”

गौरतलब है कि किसान पिछले 58 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों के विरोध में लाखों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे हैं। जिसमें अब तक 76 किसान किसानों की मौत हो चुकी हैं।