bwf-working-with-thailand-open-organizers-after-kidambi-srikanth-left-with-bloodied-nose

बीडब्ल्यूएफ (BWF) ने कहा कि आयोजकों ने खून बहने के कारणों की जानकारी दी ।

बैंकॉक. बैडमिंटन विश्व महासंघ (Badminton World Federation) ने बुधवार को कहा कि थाईलैंड ओपन (Thailand Open) के दौरान कोरोना जांच सुविधाजनक ढंग से सुनिश्चित करने के लिये वह आयोजकों के संपर्क में है। इससे पहले भारतीय खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) की नाक से टेस्ट के बाद खून बहने लगा था ।

दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) की मंगलवार को कोरोना जांच (Covid-19) हुई जिसके बाद उनकी नाक से खून बहने लगा । स्वास्थ्य अधिकारियों के रवैये से खफा श्रीकांत ने इसे ‘अस्वीकार्य’ बताया । बीडब्ल्यूएफ (BWF) ने कहा कि आयोजकों ने खून बहने के कारणों की जानकारी दी ।

इसने एक बयान में कहा ,‘‘ कई दौर की कोरोना जांच के बाद किदाम्बी श्रीकांत की नाक से खून बहने लगा था । उसका तीन बार नमूना लिया गया और वह तनाव में भी थे ।शायद उसी वजह से उनकी नाक से खून बह निकला ।”

बयान में कहा गया ,‘‘ जांच कर रहे दल ने उस समय उनकी नाक से खून निकलता नहीं पाया और उस समय श्रीकांत ने भी कोई शिकायत नहीं की थी । इसके तीन से पांच मिनट बाद भारतीय टीम के एक अन्य सदस्य ने बताया कि उसकी नाक से खून बह रहा है।”

महासंघ ने कहा ,‘‘यह पता नहीं है कि खिलाड़ी ने अपनी नाक टिश्यू से दबाई थी या उनकी नाक बह रही थी जिससे रक्त वाहिकाओं को चोट पहुंची ।”

बयान में कहा गया कि आयोजकों से बात की गई है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि खिलाड़ियों और प्रतियोगियों की जांच सुविधाजनक और सुरक्षित माहौल में हो । (एजेंसी)