Abhinav Bindra

नयी दिल्ली. भारत के एकमात्र व्यक्तिगत ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा को लगता है कि ध्यान और सतर्कता बरतते हुए भारतीय निशानेबाज तोक्यो ओलंपिक के लिये साथ में ट्रेनिंग करना शुरू कर सकते हैं। कोविड-19 महामारी के चलते 2020 तोक्यो ओलंपिक को अगले साल के लिये स्थगित कर दिया गया। लेकिन बिंद्रा के लिये यह महासमर करीब ही है जिन्हें हमेशा लगता है कि ओलंपिक खेलों में सफलता हासिल करने के लिये कई वर्षों की योजना, समर्पण और अभ्यास की जरूरत होती है।

पूर्व विश्व चैम्पियन निशानेबाज बिंद्रा ने पीटीआई से कहा, “मुझे लगता है कि यह अच्छा है कि गतिविधियों को बहाल करने के लिये प्रयास किये जा रहे हैं। तोक्यो में ओलंपिक खेल करीब ही हैं, हमारे खिलाड़ियों को जितना संभव हो, बेहतरीन तरीके से ट्रेनिंग करते हुए देखना अच्छा होगा।”

उन्होंने कहा, “सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये प्रयास जरूर किये जाने चाहिए और स्वच्छता व सामाजिक दूरी के प्रोटोकॉल का पालन किया जाना चाहिए जो गैर संपर्क वाले खेल के लिये आसान है। मैं बहाली के बारे में सकारात्मक हूं और उम्मीद करता हूं कि यह सतर्कता बरतते हुए और ध्यान रखते हुए किया जाये।”

भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) ने राइफल, पिस्टल और शॉटगन स्पर्धाओं के मुख्य कोचों के अनुरोध मिलने के बाद पांच अक्टूबर से आठ नवंबर तक राष्ट्रीय शिविर आयोजित करने का फैसला किया है। इस अनुरोध में निशानेबाजों की बेहतरीन तैयारी के लिये तुरंत कम से एक महीने के शिविर के आयोजन की बात की गयी थी।

सोमवार को 38 साल के होने वाले बिंद्रा ‘सनफीस्ट इंडिया रन एज वन’ अभियान को समर्थन दे रहे हैं जो महामारी से प्रभावित लाखों भारतीयों की मदद के लिये फंड जुटा रही है। (एजेंसी)