रिंग में उतरे बिना पंघाल को मिला स्वर्ण, चोटिल सतीश को रजत पदक

नई दिल्ली: विश्व रजत पदक विजेता अमित पंघाल (Amit Panghal) (52 किग्रा) ने फाइनल के लिये रिंग में उतरे बिना स्वर्ण पदक (Gold Medal) जीत लिया जबकि अनुभवी मुक्केबाज सतीश कुमार (Satish Kumar) (91 किग्रा से अधिक) शनिवार को चोट के कारण जर्मनी (Germany) में चल रहे कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप (Boxing World Cup) के फाइनल में नहीं उतर सके जिससे उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। पंघाल को जर्मनी के अरगिष्टी टर्टरयान (Argishti Tartaryan) ने वाकओवर दिया। 

राष्ट्रमंडल खेलों (Commonwealth Games) के रजत पदक विजेता (Silver Medal Winner) सतीश कुमार ने सेमीफाइनल में फ्रांस के जामिली डिनी मोइनडेज (Jamiele Dini Moindez) को हराकर फाइनल में जगह बनायी थी। लेकिन उन्हें चोट के कारण जर्मनी के नेल्वी टियाफैक (Nelvi Tiafac) के खिलाफ फाइनल मुकाबले से हटना पड़ा। महिला वर्ग में साक्षी (Sakshi) और मनीषा (Manisha) 57 किग्रा फाइनल में पहुंच गयी हैं। 

खिताबी मुकाबले में अब ये दोनों मुक्केबाज आमने सामने होंगी। मनीषा ने विश्व चैंपियनशिप में दो बार की पदक विजेता हमवतन सोनिया लाठेर को 5-0 से जबकि साक्षी ने जर्मनी रमोना ग्राफ को 4-1 से हराया। एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता पूजा राय हालांकि नीदरलैंड की नोचका फोंटजिन से हार गयी। 

पुरुषों के 57 किग्रा में मोहम्मद हसमुद्दीन (Mohammad Hasmuddin) और गौरव सोलंकी (Gaurav Solanki) को भी कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। हसमुद्दीन को स्थानीय मुक्केबाज हमसत शादालोव ने जबकि सोलंकी को फ्रांस के सैमुअल क्रिस्टोहरी (Samuel Christouery) ने हराया। (एजेंसी)