अन्नाद्रमुक सात अक्टूबर को अपना मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करेगी

चेन्नई. अगले साल तमिलनाडु (Tamilnadu) में होने वाले विधानसभा चुनाव (vidhansabha Election) के लिए मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के विषय पर यहां सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक की कार्यसमिति की सोमवार को हंगामेदार बैठक हुई। अन्नाद्रमुक की कार्यसमिति की पांच घंटे तक चली बैठक के बाद पार्टी ने घोषणा की कि 2021 के चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा सात अक्टूबर को की जाएगी। पार्टी के उप संयोजक के पी मुनुसामी ने संवाददाताओं से कहा कि पार्टी के शीर्ष नेता ओ पन्नीरसेल्वम एवं के पलानीस्वमी द्वारा मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में बताया जाएगा।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि इस बैठक में इस प्रश्न पर विस्तार से चर्चा हुई कि मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार पलानीस्वामी को होना चाहिए या पन्नीरसेल्वम को। सूत्रों के अनुसार आखिरकार तय हुआ कि औपचारिक घोषणा अगले महीने की जाएगी। सूत्रों ने बताया कि बैठक में कथित रूप से पलानीस्वामी और पन्नीरसेल्वम ने अगले साल चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद की उम्मीदवारी पर दावा पेश करने के लिए प्रतिस्पर्धी दावे किये और अपने अपने समर्थन में अतीत की घटनाओं का हवाला दिया।

पलानीस्वामी ने मुख्यमंत्री पद पर अपने दावे के समर्थन में कथित रूप से कहा कि वह तमिलनाडु में सुशासन प्रदान कर रहे हैं जिसकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी प्रशंसा की है। अहम यह रहा कि पार्टी ने तीसरी बार सत्ता हासिल करने के लिए ‘बंधुओं’ की तरह एकजुट होकर कठिन परिश्रम करने का प्रस्ताव पारित किया। जब पार्टी पदाधिकारी बैठक के लिए पहुंचे तब उनमें से कुछ ने पार्टी मुख्यालय के द्वार पर पलानीस्वामी की तस्वीरें लहरायीं और अन्य ने पन्नीरसेल्वम का मास्क लगा रखा था। बैठक की अध्यक्षता प्रेसीडियम अध्यक्ष ई मधुसूदनन ने की।

हाल ही में दोनों नेताओं ने भिन्न-भिन्न राय सामने आने के बाद नेताओं एवं कार्यकर्ताओं से मुख्यमंत्री के मुद्दे पर सार्वजनिक रूप से अपनी बात नहीं रखने का निर्देश दिया था। मुनुस्वामी ने कहा कि कार्यसमिति ने 15 प्रस्ताव भी पारित किये। संवाददाता सम्मेलन में उनके साथ वरिष्ठ नेता के ए सेगोट्टैयन, आर वैद्यलिंगम और एस पी वेलुमणि भी थे। (एजेंसी)