गिरफ्तार घुसपैठिये का दावा, चीन रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट हैक करने की फिराक में था: अधिकारी

    कोलकाता: पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में हाल ही में घुसपैठ की कोशिश के दौरान गिरफ्तार चीन के नागरिक ने जांचकर्ताओं को बताया कि उसके देश की विभिन्न एजेंसियां रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट समेत केंद्र सरकार की विभिन्न वेबसाइट को हैक करने का प्रयास कर रही हैं। इस मामले की जांच कर रहे विशेष कार्यबल (एसटीएफ) के सूत्रों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

    भारत-बांग्लादेश सीमा के जरिए देश में अवैध प्रवेश करने के दौरान पकड़े गए चीनी नागरिक हैन जुनवे ने पूछताछ के दौरान अधिकारियों को बताया कि चीनी एजेंसियों ने बेंगलुरु की उस कंपनी को निशाना बनाया, जोकि मंत्रालय और बीएसएनएल से जुड़ी हुई है। नाम नहीं बताने की शर्त पर एसटीएफ के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि कई एयरोस्पेस कंपनियां भी इन एजेंसियों के निशाने पर हैं।

    अधिकारी ने कहा, ” उसने बताया कि चीन की एजेंसियां भारत की रक्षा प्रणाली में तांक-झांक करने की कोशिश कर रही हैं इसलिए वे भारतीय रक्षा मंत्रालय की विभिन्न वेबसाइट को हैक करने का प्रयास कर रहे हैं।” उन्होंने बताया कि एसटीएफ जुनवे के इन एजेंसियों से संबंध को लेकर जांच कर रही है। साथ यह भी पता लगाया जा रहा है कि उसकी भारत में घुसने की क्या मंशा थी? यह भी पता लगाया जा रहा है कि गिरफ्तार चीनी नागरिक का प्रतिबंधित नक्सली संगठनों से तो कोई संबंध नहीं है?

    अधिकारी 12 जून को गिरफ्तार चीनी नागरिक के पास से बरामद मोबाइल फोन और लैपटॉप को भी अनलॉक करने का प्रयास कर रहे हैं जोकि काफी जटिल साबित हो रहा है।(एजेंसी)