शादी के वक्त सरकार देगी बेटियों को 10 ग्राम सोना, जानें किसे मिलेगा फ़ायदा

केंद्र और राज्य सरकार ने बेटियों से जुड़े कई योजनाएं (Scheme) बनाएं हैं, जिससे उनकी हर तरह की सहायता की जाती है। जैसे उनकी शिक्षा (Education) से लेकर सरकारी नौकरी (Goverment Service) तक या फिर उनकी शादी (Wedding)। ऐसे में सरकार ने बेटियों के लिए एक और योजना लाई है, जिसमें बेटियों को शादी के समय 10 ग्राम सोना उपहार (Gift) स्वरुप दिया जाता है। यह योजना असम सरकार (Asam Government) द्वारा चलाई जा रही है, जिसका नाम अरुंधती स्वर्ण योजना (Arundhati Gold Scheme) है। राज्य सरकार (State Government) ने इस योजना को पिछले साल पेश किया था। तो अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको आवेदन (Application) करना होगा।  

किसे मिलेगा इस योजना का लाभ- 

  • अरुंधती स्वर्ण योजना उन परिवार के लिए है जिनके घर में दो बेटियां हैं। जिस घर में तीन या उससे ज़्यादा बेटियां हैं तो उन्‍हें इस स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा।
  • यह स्वर्ण योजना तब ही आपके काम आएगी जब दुल्हे की उम्र 21 वर्ष और वधू की उम्र 18 वर्ष हो चुकी होगी।
  • अरुंधती स्वर्ण योजना का फायदा सिर्फ उन्हें ही मिलेगा जिनके परिवार की सालाना आय 5 लाख रुपए से कम हो। इससे ज़्यादा आमदनी होने पर कोई भी इस योजना के लिए आवेदन नहीं दे सकता है।
  • इस योजना का फायदा लड़की की पहली शादी पर ही मिलेगा। यानी अगर वह कभी दूसरी शादी करती है तो यह योजना का फायदा उसे दुबारा नहीं मिलेगा।
  • इसके अलावा अरुंधती स्वर्ण योजना के तहत 10 ग्राम सोना सिर्फ उन्हीं समुदाय की दुल्हनों को मिलेगा, जहां इस तरह की प्रथा है।
  • वहीं इस योजना का लाभ लेने के लिए ध्यान रखें कि शादी स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत रजिस्टर्ड होनी चाहिए। जिस दिन रजिस्ट्रेशन होगा, उसी दिन लड़की इस स्कीम के लिए अप्लाई कर पाएगी।