बीजद सांसद ने ओडिशा सांस्कृतिक केन्द्र एवं पुस्तकालय की स्थापना के लिए दिल्ली में मांगी जमीन

भुवनेश्वर. बीजू जनता दल (बीजद) सांसद ने ओडिशा सांस्कृतिक केन्द्र एवं पुस्तकालय की स्थापना के लिए दिल्ली में उपयुक्त भूमि के आवंटन की मांग की है। बीजद सांसद सस्मित पात्रा ने कहा कि ओडिशा सांस्कृतिक केन्द्र और पुस्तकालय राष्ट्रीय राजधानी की समृद्धि और विविधता के साथ-साथ ओडिशा की समृद्ध संस्कृति, विरासत और परम्पराओं को प्रदर्शित करेगा। पात्रा ने मंगलवार को राज्यसभा में यह मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा, ‘‘ ओडिशा संस्कृति और परम्परा की भूमि है। जबकि ओडिशा के नृत्य ने दुनिया भर में प्रशंसा प्राप्त की है, भारत में उड़िया भाषा को छह शास्त्रीय भाषाओं में से एक माना जाता है। उड़िया भोजन, वस्त्र, हथकरघा और हस्तशिल्प संस्कृति में समृद्धता के लिए जाने जाते हैं।”

पात्रा ने कहा कि ओडिशा के लोगों के पास दिल्ली में एक उपयुक्त स्थायी स्थान नहीं है, जहां वे राज्य की ऐसी सांस्कृतिक समृद्धि का प्रदर्शन कर सकें। बीजद के सांसद ने कहा कि तमिलनाडु, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश को अपने संबंधित राज्य की संस्कृति के संवर्धन के लिए सांस्कृतिक एवं सामाजिक कार्यक्रमों की मेजबानी करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में स्थान दिया गया है। लेकिन ओडिशा को इनकार कर दिया गया । पात्रा ने कहा कि सात दिसम्बर 2019 को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने केन्द्रीय आवास एवं शहरी विकास मंत्री को इस उद्देश्य के लिए दिल्ली में भूमि आवंटित करने के लिए पत्र लिखा था ।(एजेंसी)