WB should also be included under 'Garib Kalyan Rojgar Abhiyan': Adhir Ranjan Chaudhary

    बहरामपुर: कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने सोमवार को कहा कि वह इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आईएसएफ) के साथ कोई गठजोड़ करने के पक्ष में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि अब्बास सिद्दीकी के नेतृत्व वाली पार्टी ने विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के खिलाफ उम्मीदवार खड़े किए थे और कांग्रेस आईएसएफ से संबंध बनाए रखने के पक्ष में नहीं है। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि उन्हें आईएसएफ के साथ संबंध बनाए रखने के बारे में कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व से कोई निर्देश नहीं मिला है।

    चौधरी ने कहा, ‘‘आईएसएफ ने विधानसभा चुनाव में मुर्शिदाबाद जिले में कांग्रेस के खिलाफ उम्मीदवार खड़े किए थे। कांग्रेस ने आईएसएफ के साथ कोई चुनावी समझौता नहीं किया। यह मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) थी, जिसने सिद्दीकी की पार्टी के साथ हाथ मिलाया था।” उन्होंने कहा कि उन्हें आईएसएफ के किसी भी नेता के साथ कोई व्यक्तिगत समस्या नहीं है। उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस के राजनीतिक सिद्धांतों का पालन करते हैं।