Mamta Banerjee

कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना (Corona) के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए ‘त्वरित प्रतिक्रिया दल’ (RRT) के गठन का फैसला किया है।

वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को बताया कि आरआरटी में मरीजों के इलाज के लिए एक एनेस्थेसियोलॉजिस्ट (संवेदनाहरण विज्ञान विशेषज्ञ) और मेडिसिन विभाग का एक विशेषज्ञ होगा। अधिकारी ने बताया कि राज्य भर के कोरोना (Corona) अस्पतालों में रोगी देखभाल सेवाओं को मजबूत करने के लिए यह कदम उठाया गया है। विभाग द्वारा जारी एक आदेश के अनुसार, ‘‘ विशेषज्ञ और अन्य चिकित्सा अधिकारियों को कोविड अस्पतालों के पास रहना होगा।”