Pramod Sawant
File Photo

    पणजी:  गोवा सरकार (Goa Government) ने मंगलवार को रेस्तरां समेत गैर-जरूरी सेवाओं को कोविड-19 के चलते लगी पाबंदियों (Restrictions On Non-Essential Services Including Restaurants Due to Covid-19) के दायरे में लाने का फैसला किया। प्रदेश में पाबंदियां 10 मई तक बढ़ायी गयी हैं। मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ( Chief Minister Pramod Sawant) ने यहां संवाददाताओं से कहा कि पाबंदियों के दायरे पर राज्य सरकार (State Government) के पिछले आदेश में संशोधन किया गया है और ‘जनभावना’ को ध्यान में रखते हुए गैर-जरूरी सेवाओं को बंद रखा जाएगा। कोविड-19 के मामले में तीव्र वृद्धि एवं उच्च संक्रमण दर को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार ने चार दिन का लॉकडाउन लगाया (The State Government Imposed a four-Day Lockdown) था, जिसे सोमवार सुबह हटा लिया गया लेकिन सरकार ने उसे अब 10 मई तक जारी रखने का फैसला किया है।

    कई पंचायत एवं निगम क्षेत्र अपने-अपने यहां स्वेच्छा से लॉकडाउन लागू किये हुए हैं। वैसे कोविड-19 के मामले बढ़ने के बावजूद (सोमवार को) लॉकडाउन हटाने पर कांग्रेस के नेतृत्व में विपक्षी दलों ने सरकार की आलोचना की थी। सावंत ने मंगलवार को पंचायतों एवं नगरपालिकाओं को लॉकडाउन के नाम पर जरूरी सेवाएं बाधित करने के विरूद्ध चेतावनी दी। उन्होंने कहा, ‘‘ यदि आपने जरूरी सेवाएं बाधित कीं, तो इससे लोगों में घबराहट पैदा हो जाएगी।

    किसी भी पंचायत एवं नगरपालिका को दुकानों को जरूरी सामान बेचने से नहीं रोकना चाहिए।