कोटा: पोते को संक्रमण से बचाने के लिए कोरोना पॉजिटिव दादा-दादी ट्रेन के आगे कूदे, मौत

    कोटा. कोरोना (Corana period) के इस दौर में ऐसी खबरें आ रही है जिसे सुनकर दिल दहल जाता है। एक ऐसी ही घटना घाटी है, यहां कोरोना पॉजिटिव एक दंपति ने इसलिये ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या (Suicide) कर ली क्योंकि उन्हें डर था कि उनकी वजह से पोता भी संक्रमि न हो जाएं। घटना के बाद इलाके में मातम फैला हुआ है, वहीं  परिवार वाले सदमे में हैं। 

    ममाले की जांच कर रहे पुलिस उपाधीक्षक भगवत सिंह हिंगड़ ने बताया कि, रेलवे कॉलोनी इलाके में पुरोहित जी की टापरी में रहने वाले हीरालाल बैरवा (75) और उनकी पत्नी शांति बैरवा (75) की एक दिन पहले ही कोरोना रिपोर्ट पोजिटिव आई थी। दोनों घर में ही  क्वॉरेंटाइन थे। दोनों इस कारन तनाव ने चल रहे थे कि, उनकी वजह से  कही पोते रोहित को उनसे संक्रमण का खतरा नहीं हो जाये।

     

    दोनों रविवार की सुबह बिना बताये घर से निकल गए। दिल्ली जाने वाले ट्रैक पर जा पहुंचे और ट्रेन के आगे छलांग लगाकर अपनी जान दे दी। रेलवे कॉलोनी थाना पुलिस ने सुचना मिलने पर दंपति के शवों को वहां से उठवाकर एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया। जांच करने पर पता चला कि, दंपति ने 8 साल पहले अपने जवान बेटे को खो दिया था अब वे पोते को खोना नहीं चाहते थे इसलिए दंपति ने यह कदम उठाया। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।