Lockdown extended till June 10 in Jharkhand

    ओमप्रकाश मिश्र 

    रांची. कोरोना संक्रमण रोकने के लिए राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के रूप में लगाए गए लॉकडाउन (Lockdown) की मियाद 3 जून को पूरी होगी पर एहतियातन कुछ रियायतों के साथ अब इसकी अवधि आगामी 10 जून तक बढ़ा दी गयी है। झारखंड (Jharkhand) में कोरोना संक्रमण (corona Infection) के कम होते असर को देखते हुए लॉकडाउन की स्थिति पर चर्चा करने के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Chief Minister Hemant Soren) की अध्यक्षता वाली आपदा प्रबंधन प्राधिकार समिति की एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में आम लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी में होने वाली परेशानियों और कोविड-19 संक्रमित मामलों की घटती संख्या को देखते हुए पाबंदियों में छूट देने का फैसला लिया गया। साथ ही अगले एक सप्ताह यानी 10 जून तक संक्रमण के मामलों के आधार पर जिलों को दो वर्गों में बांटा गया है।

    राज्य के रांची, धनबाद, जमशेदपुर, बोकारो, हजारीबाग, रामगढ़, देवघर, गुमला और  गढ़वा जिलों में संक्रमण के मामलों की अधिक संख्या को देखते हुए कपड़ा, जूता, गहने और कॉस्मेटिक्स की दुकानों को खोलने की अनुमति नहीं दी गयी है, जबकि शेष 15 जिलों में कपड़ा, जूता, गहने और कॉस्मेटिक्स की दुकानों को खोलने की अनुमति प्रदान की गयी है। लॉकडाउन का समय पुर्रवत रखा है। सुबह से लेकर दिन के दो बजे तक ही व्यापारिक प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति प्रदान की गयी है। रेस्तरां, क्लब, बार और सैलून के अलावा गैरजरूरी सेवाओं पर पाबंदी अभी नहीं हटायी गयी है। गैरजरूरी सेवाओं पर प्रतिबंध अगले आदेश तक लागू रहेगा।

    एक जिला के अंदर ई-पास की बाध्यता समाप्त 

    सरकार द्वारा ई-पास को अनिवार्य किये जाने से राज्य की आम जनता त्रस्त थी। इसके मद्देनजर एक जिला के अंदर ई-पास की बाध्यता समाप्त कर दी गयी है। जबकि, एक जिला से दूसरे जिला और किसी जिले से दुसरे राज्य में जाने के लिए ई-पास की व्यवस्था बरकरार रखी गयी है। चूँकि संक्रमण अभी पूरी तरह से नियंत्रित नहीं हो सका है, ऐसे में अंतर जिला या अंतरराज्यीय बस सेवा भी फिलहाल शुरू नहीं करने का निर्णय लिया गया है। 

    सरकारी कार्यालय भी दिन के दो बजे तक ही खुलेंगे

    शादी-विवाह समेत अन्य सार्वजनिक समारोहों में 11 से अधिक लोगों को शामिल होने की अनुमति प्रदान नहीं की गयी है। सरकारी कार्यालय भी दिन के दो बजे तक ही खुलेंगे। मॉल व मल्टी स्टोरेज दुकानों को सभी जगह बंद रखा जायेगा। रेस्तरां, क्लब, बार व सैलून के अलावा गैरजरूरी सेवाओं पर पाबंदी जारी रहेगी।

    सीएम ने लोगों से मांगा था सुझाव

     झारखंड में लॉकडाउन की अवधि आगे बढाई जाय या नहीं इसके लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक अच्छी पहल की। उन्होंने जनभागीदारी को सशक्त बनाने की प्रक्रिया में ट्वीटर और फेसबुक में आम लोगों का सुझाव मांगा, जिसमे तक़रीबन 20 हजार लोगों की प्रतिक्रिया मिली। अधिकांश लोगों ने ई-पास की अनिवार्यता समाप्त कर कुछ जरुरी एहतियात को जारी रखते हुए लॉकडाउन को आगे विस्तारित रखने की सलाह दी। सोरेन ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में अनलॉक -1 में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में राज्य की जनता के सहयोग से संक्रमण पर काबू पाया जा सका है, जीवन और जीविका के इस संघर्ष में अब हमारा ध्यान जीविका पर है। उन्होंने लॉकडाउन में सहयोग बनाये रखने के लिए राज्य की जनता के प्रति आभार व्यक्त किया।