mamata-banerjee-declines-to-speak-at-netaji-event-after-jai-shri-ram-slogans-raised

    नंदीग्राम. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के रुझानों में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने बड़ी जीत की ओर बढ़ती दिख रही हैं। वहीं बंगाल की सबसे अहम सीट नंदीग्राम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शुभेंदु अधिकारी को उनके ही गढ़ में करारी शिकस्त दी है। ममता ने इस सीट पर 1200 वोटों से बड़ी जीत हासिल की हैं।

    नंदीग्राम अधिकारी परिवार का मजबूत गढ़ माना जाता रहा है, लेकिन यहां ममता बनर्जी ने शुभेंदु अधिकारी को हराकर किला फतह किया। इस समय टीएमसी 200 से अधिक सीटों पर बढ़त बनाएं हुई है।

    नहीं निकलेगा जीत का जुलुस 

    जीत के बात ममता बनर्जी ने जनता को संबोधित किया। उन्होंने जीत के लिए सभी को शुक्रिया कहा। साथ ही इस समय कोरोना नियंत्रण को पहली प्राथमिकता बताया और कहा कि अभी जीत का जश्न नहीं मनाएंगे। दीदी ने टीएमसी समर्थकों और कार्यकर्ताओं से भी अपील करते हुए कहा कि कोरोना की वजह से विजय जुलुस ना निकालें।

    भाजपा ने बंगाल में मानी हार

    बंगाल में तृणमूल कांग्रेस हैट्रिक जीत की ओर बढ़ती दिख रही है। हालांकि, अभी वोटों की गिनती जारी है और पूरे नतीजे देर शाम तक ही साफ हो पाएंगे। लेकिन इस बीच केंद्रीय रक्षा मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने ममता बनर्जी को ट्वीट करके बधाई दी। रक्षा मंत्री ने कहा कि, “पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दीदी को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी की जीत पर बधाई। उनके अगले कार्यकाल के लिए उन्हें मेरी शुभकामनाएं।”

    टीएमसी छोड़ भाजपा में शामिल हुए थे शुभेंदु

    पश्चिम बंगाल चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के पहले ही शुभेंदु अधिकारी बगावत पर उतर आए थे। जिसके बाद वह टीएमसी छोड़ भाजपा में शामिल हो गए। ममता ने शुभेंदु को चुनौती देने के लिए अपनी भवानीपुर सीट छोड़कर नंदीग्राम को चुना था। जहां शुभेंदु को कड़ी टक्कर में हार का सामना करना पड़ा।