स्टालिन के आरोप पर पलानीस्वामी पलटवार, कहा- जब करूणानिधि ने भरोसा नहीं किया तो जनता कैसे करेगी

    चेन्नई: तमिलनाडु विधानसभा चुनाव (Tamilandu Assembly Election) में भारतीय अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (Indian Anna Dravida Munnetra Kazhagam) और द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (Dravida Munnetra Kazhagam) ने पूरी ताकत झोंक दी है। इस दौरान दोनों दलों के नेताओं का एक दूसरे पर वार-पलटवार शुरू है। इसी क्रम में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एडप्पादी पलानीस्वामी (Edappadi Palaniswami) ने डीएमके प्रमुख स्टालिन (MK Stalin) के आरोप पर पलटवार किया है। तिरुवन्नामलाई (Tiruvannamalai) में आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए कहा, “जब करूणानिधि ने जिंदा रहते हुए स्टालिन पर भरोसा नहीं किया तो, जनता कैसे करेगी।”

    पलानीस्वामी ने कहा, “करुणानिधि खुद स्टालिन को नहीं मानते थे। अपने पिछले दो वर्षों के दौरान जब वह बीमार थे, उन्होंने स्टालिन को पार्टी नहीं सौंपी। उन्हें अपने बेटे पर भरोसा नहीं था। ऐसे में, लोग उन पर विश्वास कैसे करेंगे?”

    ज्ञात हो कि, बीते शनिवार को तिरुनेलवेली आयोजित सभा में स्टालिन नेपलानीस्वामी पर शशिकला और एआईएडीएमके कार्यकर्ताओं को धोखा देने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि, “एडप्पादी पलानीस्वामी ने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री की सीट विधायकों के समर्थन से मिली है, शशिकला के समर्थन से नहीं। उन्होंने शशिकला को धोखा दिया और अब AIADMK को धोखा दे रहे हैं। पार्टी बीजेपी के हाथों में खेल रहे है।”

    छह अप्रैल को राज्य में चुनाव 

    डीएमके जहां अपने 10 साल के वनवास को खत्म करने के पूरे दमखम से मैदान में उतरी हैं, वहीं एआईएडीएमके  लगातार तीसरी बार राज्य के सत्ता में पहुंचने में लगी हुई है। चुनाव में जीत के लिए दोनों दलों के प्रमुख नेता लगातार रोड शो और रैली को संबोधित कर अपने पक्ष में माहौल बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं। राज्य में छह अप्रैल को मतदान किया जाएगा और दो मई को नतीजे आएंगे।