File Photo
File Photo

कोलकाता: सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने पश्चिम बंगाल में भारत-बांग्लादेश सीमा पर पशुओं की ‘‘क्रूर” तस्करी का भंडाफोड़ किया है जिसमें एक पशु के शव को काटकर उसमें एक जिंदा बछड़े को छिपा दिया गया। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि नदी में गश्त के दौरान बल ने माल्दा जिले में महानंदा नदी में रविवार को एक पशु का शव बहता हुआ देखा। इसकी जांच करने पर इसके भीतर एक जीवित बछड़ा बंधा मिला।

बीएसएफ ने कहा, ‘‘एक पशु का शव बरामद हुआ जिसे काटकर खोला गया था और इसके अंदर रस्सियों से टांगों को बांधकर एक बछड़े को छिपाकर रखा गया था। बछड़े की आंखों को एक कपड़े से ढककर रखा गया था।” इसने कहा, ‘‘पशु के शव को केले के तने से बांधा गया था, ताकि यह तैरता रहे। बछड़े की नाक मृत मवेशी की कटी खाल के एक हिस्से से दिखाई दे रही थी।” बल ने कहा कि बछड़ा मुश्किल से सांस ही ले पा रहा था।

इसने कहा, ‘‘पशु तस्करों ने इस सीमा पर मवेशियों की तस्करी के लिए बहुत ही क्रूर तरीके ढूंढ़ लिए हैं।” पशु तस्करी के इस तरीके का भंडाफोड़ इस क्षेत्र में सीमा की रक्षा में तैनात बल की 44वीं बटालियन ने किया। अधिकारियों ने बताया कि बल ने पशु तस्करों द्वारा अपनाए जा रहे तरीकों को विफल करने के लिए अभियान तेज कर दिया है, खासकर मानसून के मौसम के दौरान जब तस्कर मवेशियों की बांग्लादेश में तस्करी करने के लिए इस तरह के तरीके अपनाते हैं।