JP Nadda
PTI Photo

    कोलकाता. भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा (BJP President JP Nadda) ने मंगलवार को कहा गया कि पश्चिम बंगाल में चुनाव (West Bengal E;ection) बाद हुई व्यापक हिंसा (Violence) ने उन अत्याचारों की याद दिला दी है जिसका सामना लोगों को देश के विभाजन के दौरान करना पड़ा था। नड्डा ने राज्य में पार्टी कार्यकर्ताओं को ‘‘क्रूरता” के विरूद्ध लोकतांत्रिक तरीके से लड़ने के लिए प्रेरित किया।

    पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचे नड्डा ने कहा कि पूरे भारत में भाजपा कार्यकर्ताओं ने राज्य के उन कार्यकर्ताओं के साथ एकजुटता व्यक्त की है, जो ‘‘हिंसक हमलों का सामना कर रहे हैं।”

    उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम इस वैचारिक लड़ाई और तृणमूल कांग्रेस की गतिविधियों से लड़ने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जो असहिष्णुता से भरी हुई है।” भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘मैंने विभाजन के दौरान हुए अत्याचारों के बारे में सुना है, लेकिन मैंने चुनाव के बाद ऐसी हिंसा नहीं देखी है जो पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम (2 मई को) घोषित होने के बाद राज्य में हो रही है।”

    नड्डा ने कहा कि वह दक्षिण 24 परगना जिले में हमलों में “मारे गए” भाजपा कार्यकर्ताओं के आवासों का दौरा करेंगे और उनके परिजनों से बात करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘हम यह संदेश देना चाहते हैं कि देश भर के करोड़ों भाजपा कार्यकर्ता उनके साथ हैं।”

    भाजपा ने दावा किया है कि तृणमूल कांग्रेस द्वारा विधानसभा चुनावों में जीत के बाद कथित रूप से की गई हिंसा में भाजपा के कम से कम छह कार्यकर्ता और समर्थक मारे गए हैं जिसमें एक महिला भी शामिल है। (एजेंसी)