Yeddyurappa

    बेंगलुरु: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने अपने दिल्ली दौरे को सफल करार देते हुए कहा कि पार्टी नेतृत्व ने उन्हें मुख्यमंत्री पद पर बने रहने को कहा है और राज्य में नेतृत्व परिवर्तन के विषय पर कोई चर्चा नहीं हुई। नयी दिल्ली से लौटने के बाद येदियुरप्पा ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘केंद्रीय नेताओं ने मुझे मुख्यमंत्री पद पर बने रहने और पार्टी को मजबूत करने को कहा है। यह हमारा कर्तव्य है कि हम समय-समय पर उनके निर्देशों का अनुपालन करें। नेतृत्व परिवर्तन का सवाल ही नहीं है।”

    इससे पहले दिन में येदियुरप्पा ने उनके द्वारा मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने की खबरों का खंडन करते हुए कहा था कि इसमें ‘‘कोई सच्चाई नहीं है।” वैकल्पिक नेतृत्व पर किसी तरह की चर्चा से इनकार करते हुए येदियुरप्पा ने जोर देकर कहा कि भाजपा में योग्य नेताओं की कोई कमी नहीं है। हालांकि, साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी ने उन्हें जिम्मेदारी दी है और वह सभी को साथ लेकर पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करेंगे। 

    गौरतलब है कि येदियुरप्पा ने अपने दो दिवसीय दिल्ली दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की और राजनीति से लेकर कावेरी नदी पर प्रस्तावित मेकेदातु जलाशय के निर्माण में संतुलन तक के विषयों पर चर्चा की। मेकेदातु परियोजना को लेकर कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच गतिरोध बना हुआ है।