मास्क न पहननेवालों से वसूला 1.39 करोड़ का जुर्माना

पुणे. देशभर में महामारी कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. देश में संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है, जो 10 लाख से ज्यादा पॉजिटिव मामलों वाला पहला राज्य बन गया है. 

वहीं महाराष्ट्र का पुणे न केवल राज्य बल्कि पूरे देश में सर्वाधिक मामलों वाला शहर साबित हुआ है. ऐसे में कोरोना गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करना जरूरी ही नहीं, बल्कि अनिवार्य है, जो लोग इन बातों को नजरंदाज कर रहे हैं या इसे कोई बड़ी बात नहीं मान रहे हैं, पुलिस ने उन पर नकेल कसना शुरू कर दिया है.

एक सप्ताह में 28 हजार लोगों पर कार्रवाई

जिला प्रशासन ने पुणे में सार्वजनिक जगहों पर अपना मुंह और नाक न ढंकने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है. मनपा के साथ पुणे पुलिस ने एक हफ्ते के अंदर ऐसे लगभग 28 हजार लोगों पर जुर्माना लगाया है जो कोविड-19 दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करते हुए पाए गए हैं. पुणे पुलिस के उपायुक्त बच्चन सिंह के अनुसार को आंकड़े जारी करते हुए बताया कि 2 सितंबर से 10 सितंबर के बीच सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की अनिवार्यता का उल्लंघन करने वाले 27 हजार 989 लोग पकड़े गए हैं और हर एक उल्लंघनकर्ता पर मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपए का जुर्माना लगाया गया.

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले पुणे में

उन्होंने बताया कि जिन लोगों ने कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं किया या मास्क न पहनकर खुद के और दूसरों के संक्रमित होने का खतरा पैदा किया, उनसे जुर्माने के रूप में अब तक कुल एक करोड़ 39 लाख 94 हजार 500 रुपये वसूले गए हैं. जिलाधिकारी राजेश देशमुख ने बताया कि पुणे के ग्रामीण इलाकों में मास्क न पहनने वालों से जुर्माने के रूप में लगभग डेढ़ करोड़ रुपए वसूल किए जा चुके हैं. बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा दो लाख 15 हजार 975 मामले पुणे जिले में ही हैं. शनिवार को एक दिन में 4750 मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं जिले में अब तक एक लाख 70 हजार 800 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं.