जलाशयों में जमा हुआ 13 TMC पानी

  • लगातार बारिश से 24 घंटो में 2.33 TMC पानी की वृद्धि

पुणे. 2 दिन पहले तक शहर को जलापूर्ति करनेवाले खडकवासला परियोजना के चारों जलाशयों में पर्याप्त पानी नहीं था. इस वजह से इस साल पानी किल्लत की नौबत पुणेकरों पर आएगी, ऐसे कयास लगाए जाने लगे थे, लेकिन सोमवार की रात से शहर में जोरदार बारिश शुरू हुई. जो बुधवार तक जारी रही. जिसके चलते विगत 24 घंटो में इन जलाशयों में 2.33 टीएमसी पानी की वृद्धि हो गई है. जलाशयों में अब लगभग 12.99 टीएमसी पानी उपलब्ध है. इससे पुणेकरों की आगामी 8-10 माह की प्यास बुझ सकती है.  विगत साल से इसकी तुलना करें तो इस दिन तक 28.95 TMC पानी का भंडारण था.

2 दिन से लगातार बारिश

ज्ञात हो की पुणे शहर को खडकवासला परियोजना के 4 जलाशयों से जलापूर्ति की जाती है. इसमें खडकवासला, पानशेत, वरसगांव और टेमघर जलाशय का समावेश है. फिलहाल तो  जलाशयों में पर्याप्त पानी है क्योंकि बारिश के मौसम में अच्छी बारिश ना होने से सभी जलाशय पूरी तरह से नहीं भर पाए थे. पुणे शहर व आसपास के गांवों को लगभग 1 से सवा टीएमसी पानी की जरुरत प्रति माह पड़ती है. लगातार 2 माह से बारिश नहीं हो रही थी. इस वजह से शहर में पानी कटौती को लेकर चर्चा की जा रही थी, लेकिन अब विगत 2 दिनों से शहर और जलाशय परिसर में अच्छी बारिश हो रही है. लगातार बारिश के चलते इन जलाशयों में विगत 24 घंटो में 2.33 टीएमसी पानी की वृद्धि हो गई है. जलाशयों में अब लगभग 12.99 टीएमसी पानी है. इससे पुणेकरों की आगामी 8-10माह की प्यास बुझ सकती है.