शहर में बनाए जाएंगे 150 हॉकर्स मार्केट!, मनपा प्रशासन बना रही नियोजन

– पथारियों को अब सड़कों पर व्यवसाय के लिए पाबन्दी

पुणे. शहर सील करने के बाद सब्जियों की आवक भी शहर में कम हो गई थी. इस वजह से महापालिका ने किसान बाजार के तहत लोगों को सब्जी उपलब्ध कराई थी. इसके अनुसार प्रशासन ने 124 से अधिक ठिकानों की सूची जारी की थी. इस  बीच प्रशासन के नजर में आ रहा है कि कई छोटे बाजार बिना अनुमति लिए शहर के विभिन्न इलाकों में चलाए जा रहे हैं. कार्रवाई ना होने की वजह से वैध के साथ अवैध व्ययसायी भी सब्जी बेच रहे हैं. इससे कोरोना का प्रादुर्भाव बढ़ेगा.

 इस वजह से मनपा प्रशासन द्वारा किसान बाजार बंद करने का फैसला लिया है. साथ ही अब किसी भी पथारी को सड़क पर बैठने नहीं दिया जाएगा. उनके लिए छोटे-छोटे मार्केट बनाए जाएंगे. ऐसे करीब 150 हॉकर्स मार्केट शहर के विभिन्न जगहों पर बनाने का नियोजन महापालिका प्रशासन की ओर बनाया है. ऐसी जानकारी अतिक्रमण विभाग द्वारा दी गई.

124 जगहों  शुरू किए थे किसान बाजार

ज्ञात हो कि लॉकडाउन की वजह से शहर की सभी मंडी बंद की गई थी क्योंकि यहां पर भीड़ हो जाती है. इससे कोरोना का संसर्ग होने की आशंका होती है. लेकिन मंडी बंद करने की वजह लोगों को रोजमर्रा के लिए सब्जी नहीं मिल पा रही थी. जिला बंदी करने से ग्रामीण इलाकों से सब्जी मार्केट में नहीं आ रही थी. नतीजा लोग परेशान हो गए थे. इस बात को मनपा प्रशासन ने गंभीरता से ध्यान दिया है. साथ ही लोगों को सब्जी उपलब्ध करने के बारे में साप्ताहिक एवं किसान बाजार शुरू करने का फैसला लिया था. इसके अनुसार प्रशासन ने शहर के विभिन्न 124 ठिकानो पर ये बाजार शुरू किए थे.  यहां पर सीधा किसान से लोग सब्जी खरीद कर रहे थे, लेकिन इसमें भी अवैध व्यवसायी बढ़ रहे थे. इससे शहर में भीड़ हो रही है. साथ ही उनसे सोशल डिस्टन्सिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा है.  

संक्रमित लोगों की तादाद बढ़ रही 

पहले से ही शहर में कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद बढ़ रही है. ऐसे में इन लोगों की वजह से संक्रमण ज्यादा ना बढ़ जाए, इस वजह से ऐसे लोगों पर कार्रवाई करने का फैसला प्रशासन ने लिया था, लेकिन यह कार्रवाई भी सही तरीके से नहीं हो पा रही है.  इस वजह से मनपा प्रशासन द्वारा किसान बाजार बंद करने का फैसला लिया है. इन लोगों को अपनी सब्जी मार्केट यार्ड या कमिटी पर बेचनी होगी. साथ ही सड़कों पर ऐसे लोग दिखे तो उन पर दंडात्मक कार्रवाई करने की चेतावनी मनपा प्रशासन द्वारा दी गई है.

शहर के विभिन्न जगहों पर उपलब्ध होंगे मार्केट

इस बीच, अब मनपा प्रशासन इस नतीजे पर आयी है कि जो पथारी अधिकृत हैं, उनके लिए छोटे-छोटे मार्केट बनाए जाएंगे. किसी को भी सड़क पर व्यवसाय करने के लिए अब मंजूरी नहीं दी जाएगी. प्रशासन के अनुसार शहर के विभिन्न इलाकों में पथारियों को 150 मार्केट उपलब्ध कराए जाएंगे. इसके अलावा जो सड़कों पर व्यवसाय करेंगे. उन पर सीधा कार्रवाई की जाएगी. ऐसी जानकारी प्रशासन द्वारा दी गई.