Water crisis deepens in Uran tehsil, only 20 days water left in Ransai reservoir

    पुणे. बारिश ना होने के चलते भी खड़कवासला परियोजना (Khadakwasla Project) की जल का संचय (Water Accumulation) स्थिर था। लेकिन अब पिछले हफ्ते से जमकर बारिश हो रही है। वर्तमान (Present) में खड़कवासला परियोजना में 14.23 टीएमसी या 48 प्रतिशत है। यह उपलब्ध जलापूर्ति शहर के लिए आगामी साल के लिए पर्याप्त है। इस बीच चार दिन पहले जलाशयों में 10 टीएमसी पानी (TMC Water) संचय था। जिसमे अब 4 टीएमसी पानी की बढ़ोतरी हो चुकी है। 

    खडकवासला जलाशय भर चुका 72%  

    इस साल मानसून समय पर पहुंचा। भारी बारिश के कारण बांधों में और नालों से पानी जमा होने लगा। हालांकि, अचानक बारिश थम गई थी। तब से जलाशयों में पानी का स्तर नहीं बढ़ पाया था। लेकिन अब शहर में पिछले दो दिनों से बारिश हो रही है। तो उधर जलाशय परिसर में 4 दिनों से बारिश हो रही है। साथ ही कोकण इलाके से आनेवाला पानी भी जलाशय में जमा हो रहा है। इस वजह से शहर को जलापूर्ति करनेवाले चारों जलाशयों में पानी बढ़ रहा है। खड़कवासला जलाशय तो 72 प्रतिशत भर चुका है। इसमें 1.44 टीएमसी पानी संचय को चुका है। इससे अब शहर की पानी की चिंता रही नहीं है।

    जलाशयों में पानी की स्थिति 

    • जलाशय                        टीएमसी           प्रतिशत 
    • खड़कवासला                   1.44                71.83
    • पानशेत                          5.79                54.40
    • वरसगांव                        5.89               45.95
    • टेमघर                            1.11                 30.05
    • कुल                               14.23               48.84