हिंजवड़ी में 43.80 लाख रुपये का गुटखा बरामद

  • सामाजिक सुरक्षा विभाग की कारवाई

पिंपरी. आईटी पार्क के तौर पर पूरी दुनिया में विख्यात हिंजवडी आईटी पार्क (Hinjewadi IT Park) परिसर में पिंपरी चिंचवड पुलिस (Pimpri Chinchwad Police) के सामाजिक सुरक्षा विभाग ने गुटखा बिक्री के लिये आये एक टेम्पो को पकड़कर उसमें लदा 43 लाख 83 हजार 714 रुपये का माल बरामद किया है। इस कार्रवाई में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है, जबकि मूल मालिक फरार हो गया है। हिंजवड़ी परिसर में इतने बड़े पैमाने पर राज्य सरकार द्वारा प्रतिबंधित किये गुटखा और पान मसाला का स्टॉक मिलने से खलबली मच गई है। पुलिस आयुक्त कृष्णप्रकाश (Police Commissioner Krishnaprakash) ने  स्थानीय पुलिस को ऐसे तस्करों पर कड़ी नजर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं.

इस कार्रवाई में हिरासत में लिए गए आरोपियों में पारसराम चौथाराम मेघवाल (45), ललित गोविंदराम खारोल (23), दोनों निवासी साखरे बस्ती रोड, हुलावले बेंद्रे बस्ती, आईटी पार्क फेज 1, हिंजवड़ी, पुणे शामिल हैं। उनका मूल मालिक शाम शंकरलाल चौधरी (32) फरार हो चुका है। तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस शाम की तलाश में जुट गई है। सामाजिक सुरक्षा विभाग के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विट्ठल कुबड़े ने बताया कि उनकी टीम को 10 दिन पहले मुखबिर से शाम चौधरी द्वारा हिंजवड़ी परिसर में गुटखे का बड़ा स्टॉक छिपाकर रखे जाने की जानकारी मिली थी। इसके अनुसार पुलिस टीम वहां भेष बदलकर गोदाम और स्टॉक आदि की जानकारी जुटाई.

बुधवार की शाम को जब उक्त दोनों आरोपी टेम्पो में माल भर रहे थे तब पुलिस टीम ने धावा बोल दिया। इस कार्रवाई में 31 लाख 45 हजार 714 रुपए का विभिन्न ब्रांड का गुटखा, 12 लाख 25 हजार रुपए के तीन वाहन और 13 हजार रुपए के दो मोबाइल फोन बरामद किए गए। 

इस कार्रवाई को सामाजिक सुरक्षा विभाग के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विट्ठल कुबड़े, सहायक निरीक्षक निलेश वाघमारे, डॉ. अशोक डोंगरे, उपनिरीक्षक धैर्यशील सोलंके, सहायक फौजदार विजय कांबले, हवलदार सुनील शिरसाठ, नितिन लोंढे, अनिल महाजन, अमोल शिंदे, वैष्णवी गावड़े, मारुति करचूंडे, गणेश कारोटे, राजेश कोकाटे, योगेश तिड़के की टीम ने अंजाम दिया। बहरहाल इतने बड़े पैमाने पर गुटखा मिलने से खलबली मच गई है। पुलिस आयुक्त कृष्णप्रकाश ने सामाजिक सुरक्षा विभाग द्वारा अवैध धंधों के खिलाफ की जा रही लगातार कार्रवाइयों के बाद स्थानीय पुलिस द्वारा अवैध धंधों की ओर की जाने वाली अनदेखी पर कड़ी नाराजगी जताई है।