विधायक की तत्परता से बची 60 से 70 मरीजों की जान

देर रात खत्म हुआ ऑक्सीजन का स्टॉक 

पिंपरी. पुणे की भांति पिंपरी चिंचवड़ में एक कोविड हॉस्पिटल में ऑक्सीजन के अभाव में अनहोनी होने से टल गई. पिंपरी विधानसभा चुनाव क्षेत्र से राष्ट्रवादी कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक अण्णा बनसोडे की सतर्कता से देर रात न केवल ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति हो सकी, बल्कि हॉस्पिटल में एडमिट 60 से 70 कोरोना संक्रमित मरीजों की जान भी बच गई. यह वाकया आकुर्डी में पिंपरी चिंचवड़ मनपा द्वारा कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए अधिग्रहित स्टार हॉस्पिटल का है. यहां पर बुधवार की देर रात अचानक से ऑक्सीजन का स्टॉक खत्म हो गया.विधायक अण्णा बनसोडे की सतर्कता और मनपा आयुक्त श्रावण हार्डिकर की तत्परता से ऑक्सीजन सिलेंडरों की किल्लत दूर की जा सकी. इस बारे में स्टार हॉस्पिटल के निदेशक डॉ. अमित वाघ ने जानकारी देते हुए बताया कि स्टार हॉस्पिटल कोविड मरीजों के लिए मनपा द्वारा अधिग्रहित किया गया है.यहां फिलहाल 95 संक्रमितों का इलाज जारी है.

रोजाना कम से कम 110 से 120 ऑक्सीजन सिलेंडरों की जरूरत होती है. बुधवार की मध्यरात्रि हॉस्पिटल में ऑक्सीजन का स्टॉक अचानक से खत्म हो गया. इसके चलते काफी असुविधाओं का सामना करना पड़ा. रात के एक बज चुके थे और सिलेंडर मिलना जरूरी था, क्योंकि मरीजों की जान का सवाल था. ऑक्सीजन सिलेंडरों की आपूर्ति तत्काल होना जरूरी था अन्यथा मरीजों की जान के लिए खतरा बढ़ जाता.

हमने तुरंत मनपा आयुक्त श्रावण हार्डिकर से संपर्क किया मगर उनसे संपर्क नहीं हो सका.इसके बाद हमने विधायक अण्णा बनसोडे से संपर्क किया. मनपा आयुक्त से संपर्क न हो सकने से हम सीधे उनके घर गए और उन्हें पूरी हकीकत बताई.मनपा आयुक्त से मिलने के बाद मनपा के वाईसीएम हॉस्पिटल से ऑक्सीजन सिलेंडर मिल सकते हैं क्या? इसकी कोशिश की गई.आयुक्त ने तुरंत इसकी अनुमति दी इसके बाद तड़के चार बजे तक वाईसीएम हॉस्पिटल से स्टार हॉस्पिटल को ऑक्सीजन सिलेंडरों की आपूर्ति की जा सकी. तब तक विधायक अण्णा बनसोडे हमारे साथ ही बने रहे. इसके बाद ही हमने राहत महसूस की.