Two laborers killed, 36 injured by bus overturning

पिंपरी. भोजन के बाद मित्र के साथ टहलने निकले युवक की रिक्शा से टकरा जाने से मौत हो गई. चिंचवड़ में घटी इस घटना को संदिग्ध बताते हुए मृतक के परिजनों ने मामले की जांच कराए जाने की मांग की है. मृतक का नाम दीपक सुधाकर गायकवाड़ (32) है. 

लखन प्रताप थोरात (28) द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के आधार पर गिरफ्तार किए गए आरोपी रिक्शाचालक का नाम सौरभ दत्ता गायकवाड़ (20र) है. दीपक अपने मित्र शंकर तिखे के साथ भोजन करने के बाद रात करीब 10 बजे टहलने के लिए पवना नगर गया था. शंकर फुटपाथ पर तथा दीपक फुटपाथ से नीचे सड़क के किनारे चल रहा था. तभी तेजी से रिक्शा चलाते हुए वहां पहुंचे सौरभ ने दीपक को जबर्दस्त टक्कर मारी. इस दुर्घटना में गंभीर जख्मी हए दीपक की उपचार के दौरान हॉस्पिटल में मौत हो गई. 

मामले की हो जांच

आरोपी का कहना है कि दीपक के मित्र शंकर ने उसे धक्का दिया, इस वजह से दीपक अचानक सड़क पर आ गया व रिक्शा की चपेट में आ गया, मगर दीपक के परिजनों का तर्क है कि दीपक सड़क के किनारे था. फिर सौरभ 20 फीट चौड़ी सड़क छोड़कर फुटपाथ के पास क्यों पहुंचा? साथ ही दीपक के गंभीर जख्मी होने के बावजूद उसके मित्र शंकर ने उसे तुरंत हॉस्पिटल पहुंचाने के स्थान पर पहले घर जाकर स्नान किया व कपड़े बदलकर काफी समय बाद उसे हॉस्पिटल पहुंचाया. उसने इस दुर्घटना के विषय में उसी बिल्डिंग में रहने वाले दीपक के परिजनों को भी जानकारी नहीं दी. इसलिए यह मात्र एक दुर्घटना नहीं है. इस मामले की जांच करने की मांग के साथ ही जांच पूर्ण होने तक दीपक के शव को पुलिस स्टेशन के सामने ही रखे जाने की बात भी दीपक के परिजनों ने कही. पीएसआई गणेश आटवे द्वारा अपराध दर्ज किए जाने व जांच में दोषी पाए जाने वालों पर कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिए जाने पर दीपक के परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार किया.