Surgical Gloves
File Photo

    पुणे. फ़र्ज़ी कागजात (Fake Papers) कोर्ट में पेश कर उसके आधार पर आरोपियों (Accused) को जमानत (Bail) पर हासिल करने में मदद करनेवाले राज्य भर में सक्रिय रैकेट के एक आरोपी को पुणे (Pune) की शिवाजीनगर पुलिस (Shivajinagar Police) ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी पुलिस रिकॉर्ड पर दर्ज शातिर अपराधी है। उसके खिलाफ इस तरह के और भी मामले दर्ज है। गिरफ्तार आरोपी का नाम जयभीम भालेराव (27) है। इस मामले में इससे पहले 7 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। फ़िलहाल सभी जेल में है, जबकि अन्य तीन लोगों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है।

    पुलिस सब इंस्पेक्टर सुप्रिया सुदामराव पंढरकर ने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने आपस में मिलकर शिवाजीनगर, लष्कर, पिंपरी सहित अन्य कोर्ट में चोरी, सेंधमारी, डकैती, बल लैंगिक अत्याचार जैसे गंभीर अपराध में शामिल आरोपियों को जमानत दिलाने के लिए फर्जी आधार कार्ड, राशन कार्ड, फ़र्ज़ी सात बारह उतारा, फ़र्ज़ी मुहर जैसे फ़र्ज़ी कागजात जमा कराता था। इसके आधार पर आरोपियों को जमानत मिल जाती थी। इसके जरिए कई कोर्ट को भ्रमित किया गया। इस मामले में गिरफ्तारी के बाद भालेराव को कोर्ट में पेश किया गया था। 

    30 मई तक पुलिस कस्टडी 

    इस मामले में शामिल अन्य आरोपियों की तलाश करने, उसके पास से जब्त किये गए फ़र्ज़ी कागजात उसने कहां से तैयार किये? उसने इस तरह से और किस कोर्ट में फ़र्ज़ी कागजात जमा कर जमानत दिलवाई है? इन सबकी जांच के लिए उसे पुलिस कस्टडी की मांग सरकारी वकील ने की। कोर्ट ने भालेराव को 30 मई तक पुलिस कस्टडी में भेज दिया है। क्राइम ब्रांच के सहायक पुलिस निरीक्षक लक्ष्मण ढेंगले मामले की जांच कर रहे है।