ct scan
File

    पुणे. कोरोना (Corona) से हर तरफ त्राहि-त्राहि है। विपदा की ऐसी घड़ी में भी मुनाफाखोर लोगों की जरूरत का फायदा उठाने से बाज नहीं आ रहे। पुणे (Pune) के सासवड से ऐसा ही मामला सामने आया है जिसमें एक हेल्थकेयर सेंटर (Healthcare Center) की ओर से सीटी स्कैन (CT Scan) के लिए लोगों से मनमाने दाम वसूले जा रहे थे। 

    सरकार की ओर से सीटी स्कैन के लिए दाम निर्धारित किए गए हैं, लेकिन यह सेंटर सरकार के निर्देश को दरकिनार कर अपनी चला रहा था। पुणे ग्रामीण पुलिस ने यहां छापा मारकर इस गोरखधंधे का पर्दाफाश किया है।

    अब तक 900 लोगों को ठगा 

    सेंटर के खिलाफ पुलिस में लिखित शिकायत होने से पहले तक सेंटर की ओर से 900 लोगों से सीटी स्कैन के लिए अधिक दाम वसूले जा चुके थे। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद सेंटर पर जाकर असलियत का पता किया, साथ ही शिकायत को जिला प्रशासन के पास भेजा। इस सेंटर का नाम नोबल पुरंदर हेल्थकेयर सेंटर है, लेकिन अपने नोबल नाम से लोगों की जरूरत का फायदा उठा कर अपनी जेब भर रहा था। पुलिस की ओर से सख्त रुख अपनाए जाने के बाद अब इस सेंटर ने लोगों को वो अतिरिक्त पैसा लौटाना शुरू कर दिया है जो उसने लोगों से सीटी स्कैन के लिए वसूले थे।

    पुलिस को मिली थी लिखित शिकायत

    पुणे ग्रामीण पुलिस के उपाधीक्षक धनंजय पाटिल ने बताया कि  हमें कुछ लोगों से लिखित में शिकायत मिली थी कि नोबल पुरंदर हेल्थकेयर सेंटर की ओर से सीटी स्कैन के लिए अधिक पैसे लिए जा रहे हैं। हमारे कुछ पुलिसकर्मी कस्टमर बनकर सेंटर पर पिछले हफ्ते गए और शिकायत को सही पाया गया। इसके बाद सेंटर पर छापा मारा गया। सेंटर के कम्प्यूटर को चेक किया गया तो पाया गया कि अब तक करीब 900 लोगों से अधिक दाम वसूले गए थे। हमने सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट को रिपोर्ट भेजी जो इस पर कार्रवाई करेंगे। हमने साथ ही सेंटर से लोगों से लिया गया अतिरिक्त पैसा तत्काल लौटाने के लिए भी कहा। 

    साढ़े चार हजार तक वसूल रहा था 

    राज्य सरकार के आदेश के मुताबिक सीटी स्कैन के लिए 2,500 रुपए लिए जाने चाहिए थे, लेकिन ये सेंटर 4000 से लेकर 4500 रुपए तक वसूल रहा था। एक शख्स ने बताया कि उनसे सेंटर की ओर से कहा गया कि अगर जल्दी रिपोर्ट चाहिए तो इमरजेंसी चार्ज के तौर पर 4500 रुपए देने होंगे। अब सेंटर ने 2000 रुपए वापस लौटा दिए हैं। सेंटर की ओर से अतिरिक्त लिए पैसे लौटाए जाने पर लोग पुलिस का शुक्रिया जता रहे हैं। पिछले तीन दिनों में सेंटर की ओर से कम से कम 300 लोगों को यह पैसा लौटाया गया है। साथ ही अब सेंटर नए कस्टमर्स से सरकार की ओर से निर्धारित दाम के मुताबिक ही चार्ज कर रहा है।