पुणे स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से महाविकास आघाड़ी के अरुण लाड़ जीते

  • भाजपा को बड़ा झटका

पुणे. पुणे स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में महाविकास आघाड़ी के अरुण लाड ने विजय हासिल कर बीजेपी को बड़ा झटका दिया है. अरुण लाड 49,700 वोटों से जीते हैं. यह लड़ाई महाविकास आघाड़ी के खिलाफ भाजपा व उनके दोस्त दलों के खिलाफ थी. मनसे इसमें अपना कोई जलवा नहीं दिखा सकी. 

अरुण लाड को 1 लाख 22 हजार 145 वोट मिले

अरुण लाड को 1 लाख 22 हजार 145 वोट मिले, जबकि भाजपा के संग्राम देशमुख को 73 हजार 321 वोट मिले.  औरंगाबाद के बाद, पुणे स्नातक निर्वाचन क्षेत्र में वोटों का कोटा पहली वरीयता के वोट में पूरा हो गया है.  पुणे स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के विधायक चंद्रकांत पाटिल ने कोथरुड़ से विधानसभा के लिए चुने जाने के बाद पद से इस्तीफा दे दिया था.

भाजपा ने सभी पांच जिलों में बड़े पैमाने पर मतदाता पंजीकरण अभियान चलाया था. मतदान भी अधिक हुआ था. इसलिए यह माना जा रहा था कि यह चुनाव मुश्किल होगा. हालांकि एनसीपी के अरुण लाड और महाविकास गठबंधन ने संग्राम देशमुख पर शानदार जीत दर्ज की. यह लड़ाई महाविकास आघाड़ी के खिलाफ भाजपा व उनके दोस्त दलों के खिलाफ थी. मनसे इसमें अपना कोई जलवा नहीं दिखा सकी. मनसे के रुपाली पाटिल को सिर्फ 6713 वोट मिले. 

यह जीत पूरे महाविकास आघाड़ी की है. सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों और सभी पांच जिलों के मतदाताओं की है. आप में जो विश्वास है, उसे हासिल करने के लिए मैं दिन-रात काम करूंगा.  फिर से सभी को धन्यवाद

     – अरुण गणपति लाड, नवनिर्वाचित विधायक