Beedi workers warned of protest

पुणे. भारत सरकार (Indian Government) द्वारा बीड़ी कामगार (Beedi workers) के किए कानून (Law) और कल्याणकारी योजनाओं को पुनःस्थापित करने की मांग को लेकर अखिल भारतीय बीड़ी मजदूर महासंघ (संलग्न भारतीय मजदूर संघ) द्वारा सोनवणे हास्पिटल भवानी पेठ पुणे (Bhavani Peth Pune) में प्रदर्शन किया गया। 

इस वक्त संगठन के महामंत्री उमेश विस्वाद ने 60 दिन के अंदर बीड़ी कामगार को राहत नहीं मिली, तो बीड़ी कामगारों के लिए देशव्यापी आंदोलन (Protest) करने का ऐलान किया है।

ये हैं संगठन की प्रमुख मांगें

बीड़ी रोजगार नियमन कानून और कल्याणकारी योजनाओं को पुनःस्थापित करना, नए श्रम कोड में बीड़ी कामगारों की समस्या एवं कल्याण के लिए प्रावधान करना, सरकार द्वारा बीड़ी श्रमिक कल्याणकारी योजनाओं के लिए अनुपात निधि उपलब्ध कराना आदि मांगों को लेकर संगठन का शिष्टमंडल वैद्यकिय अधिकारी एम. लक्ष्मी को मिला। इस समय कल्याण आयुक्त द्वारा केंद्रीय श्रम मंत्री को निवेदन भेजने का आश्वासन दिया। इस समय संगठन के पदाधिकारी उमेश विस्वाद, अर्जुन चव्हाण, सचिन मेंगाले, वासंती तुम्मा, विजयालक्ष्मी यमुल सहित बड़ी संख्या में बीड़ी कामगार उपस्थित थे।