BJP jammed the expressway for OBC reservation, senior leader Pankaja Munde arrested in Pimpri Chowk agitation

    पिंपरी/मावल. ओबीसी समुदाय के राजनीतिक आरक्षण को टिकाए रखने में महाविकास आघाडी सरकार (Maha Vikas Aghadi Govt.) नाकाम साबित हुई है। स्थानीय निकायों में ओबीसी आरक्षण (OBC Reservation) रद्द होने के लिए राज्य सरकार ही जिम्मेदार है, यह आरोप लगाते हुए भाजपा (BJP) की ओर से शनिवार को राज्यभर में चक्काजाम आंदोलन किया गया। इस कड़ी में पिंपरी-चिंचवड़ (Pimpri-Chinchwad) स्थित पिंपरी चौक में भाजपा की वरिष्ठ नेता पंकजा मुंडे (Pankaja Munde) के नेतृत्व में पुणे-मुंबई हाइवे पर रास्ता रोको आंदोलन किया गया। यहां आंदोलन के बाद पुलिस ने मुंडे, विधायक व भाजपा शहराध्यक्ष महेश लांडगे, विधायक लक्ष्मण जगताप समेत कई नेताओं को हिरासत में लिया। वहीं मावल तालुका में उर्से में पुणे-मुंबई एक्सप्रेस वे के टोलनाके पर चक्काजाम किया गया। 

    ओबीसी आरक्षण और विविध मांगों के लिए पुणे- मुंबई हाइवे पर पिंपरी चौक स्थित डॉ बाबासाहेब आंबेडकर स्मारक के सामने आज दोपहर भाजपा की राष्ट्रीय सचिव पंकजा मुंडे और शहराध्यक्ष एवं विधायक महेश लांडगे के नेतृत्व में चक्काजाम आंदोलन किया गया। इस आंदोलन में भाजपा नेता, पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं के अलावा ओबीसी संगठनों के कार्यकर्ता भी शामिल हुए। राज्य की महाविकास आघाडी सरकार आरक्षण के मुद्दे पर टालमटोल की भूमिका अपना रही है, यह आरोप लगाते हुए भाजपा नेता पंकजा मुंडे ने ओबीसी आरक्षण मिलने तक राज्य में कोई चुनाव न होने देने की चेतावनी को दोहराया। 

    कोरोना नियमों का हुआ उल्लंघन

    इस आंदोलन में भाजपा की शहर प्रभारी व विधायक माधुरी मिसाल, विधायक लक्ष्मण जगताप, महापौर ऊषा ढोरे, सभागृह नेता नामदेव ढाके, अमित गोरखे, राजू दुर्गे, अमोल थोरात, राजेश पिल्ले, वीणा सोनवलकर, सीमा सावले, आशा शेंडगे, शीतल शिंदे आदि शामिल हुए। आंदोलन के दौरान कोरोना के नियमों, सोशल डिस्टन्टिंग, जमावबन्दी आदि नियमों का खुलेआम उल्लंघन हुआ। इसके लिए आंदोलन के बाद पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस ने पंकजा मुंडे, विधायक महेश लांडगे समेत भाजपा के कई नेताओं, कार्यकर्ताओ को हिरासत में लिया। 

    पुलिस का पुख्ता था बंदोबस्त 

    उर्से टोलनाके पर पूर्व राज्यमंत्री बाला भेगडे के नेतृत्व में भाजपा की मावल इकाई द्वारा रास्ता रोको आंदोलन किया गया। इस आंदोलन में भाजपा के जिलाध्यक्ष गणेश भेगडे, रविंद्र भेगडे समेत कई नेता, पदाधिकारी व कार्यकर्ता शामिल हुए। आंदोलन के दौरान कोई अनुचित घटना न घटे इसके लिए टोलनाका परिसर में पुलिस का कड़ा बंदोबस्त तैनात किया गया था। 

    कुछ देर के लिए ट्रैफिक जाम लगा रहा

    पूर्व राज्यमंत्री बाला भेगड़े ने कहा कि ओबीसी आरक्षण रद्द किए जाने से ओबीसी समाज मे असंतोष फैल गया है। लोकशाही में आंदोलन करना हमारा अधिकार है। ओबीसी समाज पर हो रहे अन्याय के खिलाफ आंदोलन करने पर अगर पुलिस हमारे खिलाफ मामला दर्ज करती है, हमें गिरफ्तार करती है तो बेशक करें। जब तक उन्हें पुनः आरक्षण और न्याय नहीं मिलता तब तक राज्यभर में भाजपा का आंदोलन जारी रहेगा। भाजपा के इस आंदोलन से एक्सप्रेस वे पर कुछ देर के लिए ट्रैफिक जाम लगा रहा।