पुलिसकर्मियों की स्वास्थ्य जांच के लिए ‘क्लीनिक ऑन क्लाऊड’ मशीन

  • पुलिस कमिश्नर कृष्णप्रकाश ने किया उद्घाटन

पिंपरी. खुद ‘आर्यन मैन’ रहे पिंपरी-चिंचवड के नए पुलिस कमिश्नर कृष्णप्रकाश ने पुलिस बल की कमान संभालने के साथ ही पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के स्वास्थ्य की ओर गम्भीरता से ध्यान देना शुरू किया है. उसी में एक पुलिस उपायुक्त के कोरोना संक्रमित पाए जाने से वे और सजग हो गए हैं. पुलिसकर्मियों के लिए हेल्थ फिटनेस स्मार्ट वॉच की योजना की घोषणा के बाद स्वास्थ्य जांच के लिए क्लिनिक ऑन क्लाउड मशीन लगवाई है. इस मशीन पर 23 प्रकार की जांच की जाएगी, बुधवार को पहले ही दिन 200 पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों की जांच की गई.

एचए कंपनी की ओर से उपलब्ध कराई गई मशीन

पिंपरी-चिंचवड़ में उद्योगनगरी की नींव रखनेवाली हिंदुस्तान एंटिबायोटिक्स कंपनी (एचए) की ओर से पिंपरी-चिंचवड पुलिस आयुक्तालय के अंतर्गत सभी पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए यह मशीन उपलब्ध कराई गई है. इसका उद्घाटन बुधवार को पुलिस कमिश्नर कृष्णप्रकाश के हाथों किया गया. इस मौके पर अतिरिक्त पुलिस आयुक्त रामनाथ पोकले, पुलिस उपायुक्त सुधीर हिरेमठ, सहायक पुलिस आयुक्त आर. आर. पाटील, एचए कंपनी के प्रतिनिधी डीजीएम-फाईनान्स सीवी पुरम, डीजीएम-ऑपरेशन्स अनुज कुमार सिंह, जनसंपर्क अधिकारी अविनाश थोपटे, वितरण विभाग के आनंद यादव, टेक्‍निकल विभाग के इनचार्ज अभय अग्रवाल आदि उपस्थित थे.

412 पुलिस कर्मी पाए गए संक्रमित

गौरतलब हो कि अब तक आयुक्तालय के 412 पुलिस अधिकारी और कर्मचारी महामारी से संक्रमित पाए गए हैं. इसमें 48 अधिकारी और 363 कर्मचारी शामिल हैं. 30 अगस्त को एक हेड कॉन्स्टेबल की कोरोना की चपेट में आने से मौत हुई है. अब तक 43 अधिकारी और 316 कर्मचारी महामारी को मात देकर ड्यूटी पर लौट चुके हैं. फिलहाल 5 अधिकारी और 47 कर्मचारियों का इलाज चल रहा है. कानून व्यवस्था बनाये रखने के साथ ही महामारी कोरोना की रोकथाम में पुलिसवाले फ्रंट लाइन में रहकर उसका मुकाबला कर रहे हैं. उनका जनता से सीधे संपर्क आता है इससे वे भी कोरोना से संक्रमित पाए जा रहे हैं. अब जबकि आयुक्तालय की कमान खुद स्वास्थ्य को लेकर सजग रहनेवाले पुलिस कमिश्नर के हाथों में है तब पुलिसकर्मियों के स्वास्थ्य को लेकर काफी ध्यान दिया जा रहा है.

23 प्रकार की हो सकेगी जांच

एचए कंपनी द्वारा उत्पादित ‘क्लिनिक ऑन क्‍लाऊड’ मशीन पर कुल 23 प्रकार की अलग- अलग स्वास्थ्य जांच की सुविधा है. इसमें वजन, बॉडी फैट, मधुमेह, रक्तदाब, बीएमआय, बीएमआर, मसल्स, मास प्रोटीन, हिमोग्लोबिन, ताप, नाडी, आंख के साथ ही एमआरआई जांच की सुविधा भी शामिल हैं. पहले ही दिन करीबन 200 पुलिसवालों के स्वास्थ्य की जांच की गई. पुलिस कमिश्नर कृष्णप्रकाश ने कहा कि जनता की हिफाजत के लिए पुलिस दिन-रात जुटी है. जहां कोई जल्द नहीं पहुंच पाता वहां पहुंचकर पुलिसवाले सेवाएं प्रदान कर रहे हैं. यह हमारा कर्तव्य है मगर इसके साथ ही अपने स्वास्थ्य की ओर ध्यान देना भी जरूरी है. आज कोरोना जैसी महामारी के कठिन दौर में पुलिसवालों के स्वास्थ्य का जतन करने का काम एचए जैसी कंपनियां कर रही हैं.