सामान्य लक्षणवाले मरीज अपने घर में ही क्वारंटाइन रहे

– मनपा आयुक्त श्रवण हर्डिकर की फेसबुक लाइव से शहरवासियों से अपील

पिंपरी. कोरोना के ऐसे मरीज जिनके लक्षण मामूली हैं, वे यदि समय पर खुद को क्वारंटाइन कर लें तो उनके जरिए संक्रमण में प्रसार की आशंका नहीं होती. इसके चलते कोरोना के ऐसे मरीज जिनके लक्षण तीव्र नहीं हैं. वे यदि संभव हो तो अपने घर में ही आइसोलेट हो जाएं. यह अपील मनपा आयुक्त श्रवण हर्डिकर ने की. 

कोरोना के साथ जीवन जीते हुए, कोरोना के साथ संघर्ष के विषय में नागरिकों से बातचीत के तहत मनपा आयुक्त हर्डिकर ने फेसबुक लाइव के माध्यम से नागरिकों से बातचीत की.

 घबराने की जरूरत नहीं 

उन्होंने कहा कि मार्च और अप्रैल के बाद मई के मध्य तक स्थिति नियंत्रित रही, मगर लॉकडाउन में ढील के बाद संक्रमण में तेजी से वृद्धि होने लगी और देखते-देखते मरीजों की संख्या 2,638 तक पहुंच गई. फिलहाल एक्टिव  मरीजों की संख्या करीब एक हजार है, मगर घबराने की जरूरत नहीं. उनमें से 80 % मरीजों में कोरोना के लक्षण नहीं हैं.

मृत्युदर मात्र 1.7 प्रतिशत 

कोरोना से अब तक 43 लोगों की मौत हो चुकी है. मौत की दर 1.7% है. उन्होंने कहा कि अनलॉक के बाद मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि की आशंका है. इस बात को दृष्टि में रखते हुए हमारे लिए हमेशा सतर्क रहना जरूरी है. मरीजों की संख्या के साथ ऐसे लोगों की संख्या भी बढ रही है जो संक्रमित हैं, मगर उनके लक्षण उजागर नहीं हैं. ऐसे लोग यदि लक्षण उजागर होने से पहले ही सावधानी बरतें व खुद को  क्वारंटाइन कर लें तो बीमारी का प्रसार नहीं होगा. केंद्र व राज्य सरकार के आदेशानुसार बिना लक्षण वाले मरीजों को घर में ही आइसोलेट होना होगा. वे खुद को  क्वारंटाइन करने के लिए मानसिक तैयारी कर लें.

 अलग रहें और पौष्टिक भोजन करें

यदि स्वास्थ्य व इम्यूनिटी अच्छी हो तो कोरोना का प्रभावशाली तरीके से सामना किया जा सकता है. बिना लक्षणों वाले मरीजों की संख्या करीब 80% है. उनके लिए अन्य लोगों से 17 दिनों तक दूर रहना जरूरी है. इसके लिए कॉलेजों के होस्टल में व्यवस्था की गई है. मगर अब यह सुविधा उपलब्ध कराना भी कुछ कठिन हो गया है. श्रवण हडिकर ने कहा ऐसे मरीजों को एक कमरे में अलग रहना होगा. कमरे में भी मास्क लगाकर रहना जरूरी है. 17 दिनों तक पूरी तरह अलग रहें और पौष्टिक भोजन करें. साथ ही कोरोना पेशेंट्स अपनी थाली, बर्तन और कपडे भी खुद ही साफ करें.