Fruit seller beaten to death for non-payment of borrowings

  • छठपूजा में गांव जाना चाहता था मजदूर
  • यूपी के नक्सली क्षेत्र में तलाशी मुहिम चलाकर आरोपी को किया गिरफ्तार
  • हिंजवड़ी पुलिस की कामयाबी

पिंपरी. छठपूजा में गांव जाने के लिए छुट्टी न देने से नाराज होकर एक मजदूर ने अपने ठेकेदार को जान से मार डाला। पिंपरी चिंचवड़ से सटे हिंजवड़ी में हुई इस वारदात के आरोपी को हिंजवड़ी पुलिस की टीम ने उत्तर प्रदेश के नक्सली इलाके में तलाशी मुहिम चलाकर गिरफ्तार कर लिया है। खास बात यह है कि इस मामले में आरोपी के बारे में कोई सुराग न रहते हुए भी केवल एटीएम के लोकेशन के आधार पर पुलिस ने वारदात उजागर होने के आठ दिन के भीतर आरोपी को धरदबोचा है।

गायब होने पर मजदूर पर शक

हिंजवड़ी थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बालकृष्ण सावंत से मिली जानकारी के अनुसार, गिरफ्तार आरोपी का नाम अरविंद नेपाल चौहान उर्फ यादव (35) मिर्जापुर, उत्तर प्रदेश है। उसके खिलाफ गणपत सदाशिव सांगले की हत्या का मामला दर्ज है। गणपत एक कंस्ट्रक्शन ठेकेदार है, जिसकी लाश 24 नवंबर को हिंजवड़ी के पास जांभे में उसके घर में मिली थी। उसके साथ रहने वाले अरविंद चौहान के गायब होने से शक की सुई उसकी ओर ही घूमी।

यूपी जाकर छिप गया था आरोपी

छानबीन के दौरान पुलिस को अरविंद के उत्तर प्रदेश में जाकर छिपने की जानकारी मिली। हालांकि इसके अलावा पुलिस के पास उसकी कोई जानकारी न थी। तब पुलिस को उसके इंदापुर तालुका के लासुर्णे की एक बैंक में एकाउंट रहने की बात पता चली। इसके बाद उसके एटीएम ट्रांजेक्शन पर नजर रखे जाने लगी। हत्या की वारदात के बाद से मारुंजी, अकोला और इलाहाबाद के एटीएम से उसके कार्ड से पैसे निकाले जाने की जानकारी मिली। इसके अनुसार हिंजवड़ी पुलिस की एक टीम इलाहाबाद पहुंची।

यूपी से भी भागने की फिराक में था आरोपी

जब पुलिस उत्तरप्रदेश पहुंची तब अरविंद अपनी पत्नी के साथ वहां से भी भागने की तैयारी में था। हालांकि सहायक पुलिस निरीक्षक सागर काटे के नेतृत्व में कर्मचारी महेश वायबसे, बालकृष्ण शिंदे, हनुमंत कुंभार, आकाश पांढरे की टीम ने स्थानीय पुलिस की मदद से मडियाहूं  पुलिस थाने में पकड़ लिया। यह पूरा इलाका नक्सल प्रभावित माना जाता है। उसे गिरफ्तार कर पुणे लाया गया। इस पूरी कार्रवाई को हिंजवडी थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बालकृष्ण सावंत, पुलिस निरीक्षक (क्राइम) अजय जोगदंड, उपनिरीक्षक नंदराज गभाले, बंडू मारणे, किरण पवार, आतिक शेख, रितेश कोली, चंद्रकांत गडदे की टीम ने अंजाम दिया।