कोरोना ने ली त्रिपुरा कैडर के आईएएस अधिकारी की जान

  • हाल ही में परभणी जिले के अपने घर लौटे थे

पुणे. महामारी कोरोना की चपेट में आकर त्रिपुरा-कैडर के एक आईएएस अधिकारी की पुणे में मौत हो गई. उनका यहां एक निजी अस्पताल में इलाज जारी था. उनका पहले औरंगाबाद के एक अस्पताल में इलाज हो रहा था. बाद में 35 वर्षीय अधिकारी को पुणे स्थानांतरित कर दिया गया था, लेकिन शुक्रवार की दोपहर यहां रूबी हॉल क्लिनिक पहुंचने पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. 2015 बैच के आईएएस अधिकारी हाल ही में परभणी जिले में अपने घर लौट आए थे.

पहले औरंगाबाद में शुरू था इलाज

2015 बैच के आईएएस अधिकारी सुधाकर शिंदे की कोरोना से मौत हो गई है.कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद 35 वर्षीय सुधाकर शिंदे को पहले नांदेड़ से औरंगाबाद के अस्पताल ले जाया गया और यहां तबीयत बिगड़ने के बाद पुणे लाया जा रहा था, लेकिन पुणे पहुंचने से पहले ही उनका निधन हो गया. वह त्रिपुरा कैडर के आईएएस अधिकारी थे.पुणे के रूबी अस्पताल के डॉ संजय पठारे ने कहा कि यहां भर्ती किए जाने से पहले उनकी मौत हो चुकी थी. वे कोरोना पॉजिटिव थे. नांदेड़ में शिंदे के रिश्तेदारों ने कहा कि उन्हें औरंगाबाद के अस्पताल में भर्ती कराया गया था और तबीयत खराब होने पर उन्हें पुणे लाया गया था. सुधाकर शिंदे त्रिपुरा से 15 दिनों की छुट्टी पर महाराष्ट्र में अपने गृह नगर आए थे. त्रिपुरा में तैनात शिंदे नांदेड़ के रहने वाले थे.