कोविड केयर सेंटरों का पूरी क्षमता से होगा इस्तेमाल

– 6 नोडल अधिकारियों की नियुक्ति

पुणे. शहर में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है. शहर में अब तक 613 से अधिक लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी हैं. साथ ही कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद भी बढ़ती जा रही है. इसे रोकने के लिए अब महापालिका प्रशासन ने कृति प्रारूप बनाया है. इसके तहत 13 हेल्थ सेंटर व फ्लू क्लिनिक बनाए है. आगामी काल में संक्रमितों की संख्या बढ़ सकती है. 

इस वजह से प्रशासन ने कोविड केयर सेंटर की तादाद बढ़ाने का फैसला लिया है. इस बीच अब शहर के प्रमुख कोविड केअर सेंटर का पूरी तरह से इस्तेमाल करने के लिए मनपा अतिरिक्त आयुक्त द्वारा 6 नोडल अधिकारियों की नियुक्ति हैं. उन्हें सेंटर प्रति दिन भेंट देनी होगी साथ ही उसका पूरी क्षमता से इस्तेमाल करना होगा. ऐसे निर्देश अतिरिक्त आयुक्त रूबल अग्रवाल द्वारा दिए गए है.

600 से अधिक लोगों की मौत

शहर में कोरोना संक्रमित लोगों की तादाद तेजी से बढ़ रही है. उल्लेखनीय है कि जो लोग विदेश नहीं जा चुके है, ऐसे ज्यादा तर लोगों को कोरोना की बाधा हुई है. शहर में हाल ही में 16 हजार से अधिक लोग कोरोना संक्रमित पाए गए है. तो 600 से अधिक लोगों की जान जा चुकी हैं. खास तौर से  शहर के मध्यवर्ती इलाके व झोपड़पट्टी इलाके में स्थानीय संसर्ग बढ़ता जा रहा है. यानि स्थिति काफी गंभीर हो गई है. इस वजह से यह प्रकोप रोकने के लिए प्रशासन ने कृति प्रारूप बनाया है.

सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के दायरे में बनाए कोविड सेंटर

महापालिका प्रशासन के अनुसार जिन इलाकों में कोरोना बाधित ज्यादा मरीज नजर आए हैं, ऐसे प्रमुख सभी क्षेत्रीय कार्यालयों के दायरे में हेल्थ सेंटर बनाये है. इसमें भी मनपा पशासन द्वारा 3 कैटोगरी की गई है. इसमें 31 ccc फ्लू क्लिनिक यानी कोविड केयर सेंटर जिसमें 11560 बेड्स, 8 तीव्र बीमारी उपचार केंद्र जिसमे 2529 बेड्स व 3 अतितीव्र बीमारी उपचार केंद्र जिसमे 597 बेड्स का समावेश है. आगामी काल में कोरोना संक्रमितों की तादाद बढ़ेगी. इस वजह से कोविड सेंटर की भी संख्या बढ़ाने का फैसला मनपा प्रशासन ने लिया है. इस बिच अब शहर के प्रमुख कोविड केअर सेंटर का पूरी तरह से इस्तेमाल करने के लिए मनपा अतिरिक्त आयुक्त द्वारा 6 नोडल अधिकारियों की नियुक्ति हैं. उन्हें सेंटर प्रति दिन भेंट देनी होगी साथ ही उसका पूरी क्षमता से इस्तेमाल करना होगा. खास तौर से जो 6 प्रमुख सेंटर हैं उसके लिए सहायक स्वास्थ्य अधिकारियों को नोडल अधिकारियों के तौर पर नियुक्त किया गया है. ऐसे निर्देश अतिरिक्त आयुक्त रूबल अग्रवाल द्वारा जारी किए गए है.