Covid Care Center

    पिंपरी. पिछले कुछ दिनों से समस्त पुणे जिले (Pune District) में कोरोना (Corona) का संक्रमण बढ़ गया है। गत चार दिनों में पिंपरी-चिंचवड़ (Pimpri-Chinchwad) में कोरोना के करीब एक हजार संक्रमित मरीज पाए गए और चार की मौत हुई है। शहर में संक्रमितों की संख्या 1 लाख 3 हजार 198 तक पहुंच गई है जिसमें से 98 हजार 257 ठीक हो गए हैं। अब तक इस महामारी की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या 1,830 हो गई है। संक्रमितों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर मनपा कमिश्नर राजेश पाटिल (Manpa Commissioner Rajesh Patil) ने मरीजों की घटती संख्या से बंद किए गए जंबो और अन्य कोविड केयर सेंटर (Covid Care Center) चरणबद्ध चरणों में फिर से खोलने के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड सेंटरों में स्वास्थ्यकर्मियों को फिर से काम में लाने की कोशिश की जा रही है।

    पिंपरी-चिंचवड़ मनपा कमिश्नर राजेश पाटिल ने कहा कि शहर के भीड़ भरे स्थानों में कुछ प्रतिबंध लाने के लिए कुछ कड़े कदम उठाए जाएंगे। कोरोना का परीक्षण रोजाना दो से तीन हजार तक बढ़ाया जाएगा। नागरिकों को घर से बाहर निकलते वक्त मास्क और सैनिटाइज़र का उपयोग करना चाहिए और भीड़ भरे स्थानों पर जाने से बचना चाहिए। कोविड सेंटरों में स्वास्थ्य कर्मचारियों को अनुबंध के आधार पर काम पर रखा गया था। 

    प्रशासन ने की तैयारी

    राज्य सरकार के निर्देश के बाद जंबो और दूसरे कोविड सेंटरों को बंद कर दिया गया है। अब जबकि मरीजों की संख्या बढ़ रही है तब जरुरत के अनुसार कोविड सेंटर शुरु करेंगे। प्रशासन ने इस लिहाज से सारी तैयारी कर ली है, यह भी उन्होंने बताया।

    …तो लॉकडाउन की नहीं आएगी नौबत

    शहर में जैसे-जैसे कोविड के रोगियों की संख्या बढ़ रही है, हम नियमित अंतराल पर चरणबद्ध तरीके से जंबो और दूसरे कोविड सेंटरों को फिर से शुरू किया जाएगा। इन सेंटरों में स्वास्थ्यकर्मियों की बहाली का फैसला जल्द लिया जाएगा। शहर के नागरिकों को किसी भी अफवाहों पर विश्वास नहीं करना चाहिए। कोविड के सभी नियमों का पालन करते हुए मनपा और राज्य प्रशासन के साथ सहयोग करें। अगर नागरिक अगले सात दिनों तक सहयोग करते हैं तो शहर में लॉकडाउन की स्थिति पैदा नहीं होगी, यह भी मनपा कमिश्नर राजेश पाटिल ने बताया।