Research: Scientists explain the results of the continued spread of Covid-19
File

– दो हफ्तों से रफ्तार से बढ़ रहे एक्टिव केसेस

पुणे. शहर में कोरोना का प्रकोप जारी है. खास तौर से जहां पर घनी बस्तियां हैं, वहां कोरोना संक्रमितों की तादाद बढ़ती जा रही है. उसके बाद अब कन्टेनमेंट जोन के बाहर भी इसकी तादाद बढ़ती जा रही है. अब तक 591 से अधिक लोगों की मौत कोरोना की वजह से हुई हैं. 

मनपा प्रशासन की मानो तो शहर में 2 जून तक के आकडेवारी के अनुसार मृत्यु दर 5.06% था. जो राज्य व देश की तुलना में ज्यादा था. यह दर अब 3.79% तक आया है, लेकिन संक्रमितों की तादाद बढ़ती जा रही है. जून माह से ही इसका बढ़ना शुरू हुआ था. 15 हजार 600 से अधिक केसेस हुई है. जिसमें एक्टिव केसेस की तादाद 5892 हैं. पहले हफ्ता भर में सिर्फ 100 से अधिक एक्टिव केसेस मिलती थी. जो अब 1 हजार से अधिक मिल रही है.

जून में बढ़ी एक्टिव केसेस की तादाद

मनपा प्रशासन की मानों तो जून माह में ही एक्टिव केसेस की तादाद बढ़ना शुरू हुआ है. 29 मई से 4 जून के कालावधि में  105 एक्टिव केसेस मिली थी. 5 से 11 जून के कालावधि में 183 केसेस मिली थी. तो 12 जून से 18 जून के कालावधि में 1140 एक्टिव केसेस मिल चुकी हैं. 19 से 25 जून के कालावधि में 1603 एक्टिव केसेस मिल चुकी हैं. हाल ही में एक्टिव केसेस की तादाद 5892 हैं. पहले हफ्ता भर में सिर्फ 100 से अधिक एक्टिव केसेस मिलती थी. जो अब 1 हजार से अधिक मिल रही है.

रिकवरी रेट है 58 प्रतिशत से अधिक

ज्ञात हो कि शहर में कोरोना का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है. कोरोना से मरनेवालों की संख्या 425 तक जा पहुंची हैं. इससे शहर में चिंता का माहौल बना हुआ है. महापालिका प्रशासन की ओर से संक्रमित लोगों को ठीक करने के लिए कई सारे प्रयास किए जा रहे है, लेकिन घनी बस्तियां व झोपड़ी इलाकों में इसका प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है. संक्रमित लोगों को क्वारंटाइन करने एवं उनपर उपचार करने के लिए महापालिका प्रशासन द्वारा क्वारंटाइन कक्ष, कोविड सेंटर, फ्लू सेंटर बनाए हैं. उसमें नागरिकों को भोजन समेत सभी तरह की सुविधा दी जा रही है. इस बीच संक्रमित लोगों का रिकवर होने का दर बढ़ा है. कुल संक्रमितों से करीब 9119 लोगों को डिस्चार्ज दिया गया है. यह रेट 58.5% हैं.

591 से अधिक मृत्यु

मनपा प्रशासन की मानो तो शहर में 2 जून तक के आकडेवारी के अनुसार मृत्यु दर 5.06% था. जो राज्य व देश की तुलना में ज्यादा है. 3 जून तक 352 लोगों की जान जा चुकी थी. तो 7089 लोग संक्रमित थे. प्रशासन के अनुसार देश का मृत्यु दर 2 जून तक आकडेवारी के अनुसार 2.79% था. तो राज्य की 3.37% था. पुणे इससे भी आगे है. प्रशासन की मानो तो विगत डेढ़ माह से यही दर था. लेकिन यह दर अब धीरे-धीरे कम होता नजर आ रहा है.  यह दर अब 3.79% तक आया है. प्रशासन की योजनाए रंग ला रही है. अब तक 591 से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी हैं तो करीब 15602 पर संक्रमितों का आंकड़ा जा चूका हैं.