गरीबों को बांटी गई दिवाली सामग्री

पुणे.  बाबूराव चांदेरे सोशल फाउंडेशन की ओर से बाणेर के धनकुडे फार्म में एक कार्यक्रम का आयोजन क्षेत्र के बेहद गरीब नागरिकों को बिना लाभ-हानि के आधार पर सामग्री वितरित करने के लिए किया गया था. 

यह कार्यक्रम विधायक सुनील टिंगरे, चेतन तुपे, महापालिका की विपक्षी नेता  दीपाली धुमाल, पुणे शहर महिला राष्ट्रवादी कांग्रेस अध्यक्ष स्वाति पोकले, मूलशी, भोर, वेल्हा तालुका राकांपा अध्यक्ष सुनील चांदेरे, कोथरूड विधानसभा राकांपा महिला अध्यक्ष ज्योति सूर्यवंशी के हाथों संपन्न हुआ.

2006 से चली आ रही परंपरा

उद्घाटन के अवसर पर शुभकामनाएं देते हुए विधायक चेतन तुपे ने कहा कि इस क्षेत्र के नागरिक भाग्यशाली हैं कि उन्हें बाबूराव चांदेरे जैसा प्रतिनिधि मिला है. क्योंकि 2006 से ही यह त्योहार इस क्षेत्र के लोगों द्वारा धूमधाम से मनाया जा रहा है.  विधायक सुनील टिंगरे ने कहा कि बाबूराव चांदेरे एक अनुभवी और अध्ययनशील व्यक्ति हैं, जिन्होंने अपने काम से बाणेर, बालेवाडी क्षेत्र का विकास किया है.  उनके पास सड़क पर उतरकर काम करने का जूनून है और यही कारण है कि लोगों ने उन्हें  वर्ष 2017 की लहर में भी फिर से प्रतिनिधित्व करने का मौका दिया. धुमाल  ने कहा कि मनपा  के हॉल में भी बाबूराव चांदेरे हमेशा हमारा सहयोग कर रहे हैं. इस कार्यक्रम का रविवार को  समापन समारोह हुआ.  

अनुकरण करते हुए देखना संतोष की बात

कार्यक्रम के मुख्य आयोजनकर्ता, बाबूराव चांदेरे ने कार्यक्रम का समापन करते हुए कहा कि सामग्री 2006 से 2016 तक लगातार वितरित की गई थी, लेकिन विठु माउली की राशन वितरण योजना 2016 में इस क्षेत्र में शुरू हुई. बाद में 2017 में राशन का वितरण रोक दिया गया था. त्योहार 2020 के दौरान कोविड -19 के प्रकोप के कारण,  गरीब नागरिक बहुत परेशानी में हैं. मैं और मेरे सभी सहकर्मी खुश हैं कि दूसरों ने मेरे उपक्रम  वितरण कार्यक्रम को देखने के बाद इसे शुरू किया. क्योंकि क्षेत्र के सबसे गरीब नागरिक इससे लाभान्वित हो रहे हैं. शशिकांत शिंदे ने कहा, कि कुछ लोग चुनावों के समय भगवान को याद करते हैं लेकिन यहां हम भगवान को आम आदमी में देखते हैं. हमें बाबूराव चंदेरे पर गर्व है जो इस भूमिका को ध्यान में रखते हुए समाज के प्रति प्रतिबद्ध हैं. मैं इस कार्यक्रम में उपस्थित होकर बहुत खुश हूं.