ससून हॉस्पिटल के गार्ड और सीएमओ से मारपीट

पुणे. मरीज से मिलने जूते और चप्पल पहनकर जाने से टोकने पर पुणे के ससून हॉस्पिटल के सिक्योरिटी गार्ड के साथ मरीज के परिजनों ने मारपीट की. यही नहीं उन्हें रोकने का प्रयास करने वाले हॉस्पिटल के चीफ मेडिकल ऑफिसर (सीएमओ) के साथ भी धक्का-मुक्की किए जाने की घटना सामने आई है.

 इस मामले में बंडगार्डन पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है. मारपीट करने वाले तीनों विद्यार्थी रहने की जानकारी सामने आयी है.

3 लोग गिरफ्तार

इस मामले में रोहन पवार (23), योगेश वाघमारे (22), सूरज वाघमारे (20) को गिरफ्तार किया गया है. उनके खिलाफ शंकरलाल चौधरी (25) ने बंडगार्डन पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. तीनों आरोपियों के खिलाफ सरकारी काम में अड़चन पैदा करने के तहत केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है. 

सिक्योरिटी गार्ड के साथ गालीगलौज 

पुलिस के मुताबिक, शिकायतकर्ता ससून हॉस्पिटल के दुर्घटना विभाग में मरीजों का इलाज कर रहे थे. उसी वक़्त एक युवक को बेहोशी आने की वजह से उसके इलाज  उसके परिजनों ने उसे ससून हॉस्पिटल में भर्ती कराया था. जहां युवक को रखा गया था, वहां युवक के परिजन चप्पल, जूता पहने हुए जा रहे थे. उन्हें सिक्योरिटी गार्ड ने रोका और उनसे कहा कि वे जूता, चप्पल पहनकर अंदर नहीं जाए. साथ ही मरीज के पास एक ही व्यक्ति को रुकने की परमिशन है. इससे नाराज होकर तीनों आरोपियों ने सिक्योरिटी गार्ड के साथ गालीगलौज करते हुए मारपीट की. यहां का शोर सुनकर मरीज का इलाज कर रहे शिकायतकर्ता बाहर आ गए. उन्होंने झगड़ा छुड़ाने का प्रयास किया. इस दौरान उनके साथ भी आरोपियों ने गाली-गलौज कर धक्का-मुक्की की. इसके बाद शिकायतकर्ता ने पुलिस स्टेशन जाकर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया.