हाई अलर्ट घोषित कर आपदा प्रबंधन को लागू करें

  • कांग्रेस गुटनेता आबा बागुल की कमिश्नर से मांग

पुणे. भारतीय मौसम विभाग द्वारा दी गई चेतावनी के अनुसार 13 से 17 तक के अवधि के दौरान पुणे शहर में भारी बारिश होने की आशंका है. पुणे शहर के ओढ़ा और नाला में पिछले 2 से 3 वर्षों में भारी बारिश के कारण आसपास की बस्तियों में जान-माल का भारी नुकसान हुआ था. इस समय मनपा  का आपदा प्रबंधन समय पर काम नहीं कर रहा था, जिससे बहुत असुविधा हुई. नागरिक बड़े संकट में थे. प्रशासन की इस लापरवाही के कारण कई नागरिक दुखी हैं. इस वजह से शहर में हाई अलर्ट घोषित कर आपदा प्रबंधन कानून लागू करे. ऐसी मांग कांग्रेस गुटनेता आबा बागुल ने महापालिका कमिश्नर से की है.

नागरिकों को परेशानी ना हो

बागुल के अनुसार, शहर में अचानक आई आपदा के लिए महापालिका का एक प्रबंधन विभाग है और इस विभाग को बजट में प्रावधान उपलब्ध कराया गया है, लेकिन आपदा  प्रबंधन विभाग पूरी क्षमता से काम नहीं कर रहा है, भले ही शहर में एक नागरिकों परेशानी हो रही हो. जबकि इस पर गंभीरता से ध्यान दिया जाना चाहिए. इसमें कोई दुर्घटना हुई तो उसके लिए प्रशासन पूरी तरह से जिम्मेदार होगा. बागुल ने कहा है कि हालांकि, भारतीय मौसम विभाग द्वारा दिए गए अनुमान के अनुसार 17 तक की अवधि के दौरान शहर में भारी बारिश होगी. नदियों के किनारे रहनेवाले नागरिकों का स्थानांतरण करना होगा. अत: अनुरोध है कि प्रबंधन प्रणाली को पूरी क्षमता से चालू किया जाना चाहिए.